बिहार की बेटियों को लाभुक योजनाओं में मिलेंगे 1038 करोड़, शिक्षा विभाग ने जारी की बकाया राशि

रिपोर्टर रंजीत रजक – सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली बेटियों को पर्व-त्योहार के मौके पर सरकार की लाभुक योजनाओं का पैसा मिलेगा। शिक्षा विभाग ने बिहार की स्कूली बेटियों तक विभिन्न संचालित योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए पांच अलग-अलग आदेश से 1038 करोड़ 63 लाख 18 हजार 180 रुपए स्वीकृत और विमुक्त कर दिए हैं। साइकिल, किशोरी स्वास्थ्य, कन्या उत्थान, पोशाक और प्रोत्साहन की राशि बेटियों के खाते में शीघ्र ही जाएगी। दी गयी राशि में से तीन वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए है, जो अब जारी की गयी है। शिक्षा विभाग ने मुख्यमंत्री बालिका साइकिल योजना के तहत सरकारी एवं अनुदानित हाईस्कूलों-प्लस टू में नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली 6 करोड़ 42 लाख 635 छात्राओं के लिए साइकिल क्रय के लिए प्रति छात्रा 3000 रुपए देने का निर्णय किया है।

सामाजिक मुहिम के तहत मुख्यमंत्री कुशोरी स्वास्थ्य योजना अंतर्गत राज्य के राजकीय, राजकीयकृत, गैर सरकारी सहायता प्राप्त (अल्पसंख्यक सहित) प्रारंभिक व माध्यमिक, उच्च माध्यमिक विद्यालयों की 7वीं से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली प्रति छात्रा 300 रुपए के हिसाब से सेनेटरी नैपकीन हेतु 30 लाख 85 हजार 321 बेटियों के खाते में राशि जाएगी।

इसके लिए शिक्षा विभाग ने 92 करोड़ 55 लाख 96 हजार 300 रुपए जारी किया है। यह राशि भी 2020-21 की योजना की है। 2021-22 में इंटरमीडिएट उत्तीर्ण सभी कोटि की अविवाहित 1 लाख 60 हजार छात्राओं के लिए मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का लाभ देने के लिए 400 करोड़ के खर्च की स्वीकृति देते हुए राशि विमुक्त कर दी गयी है।

बेटियों के खाते में साइकिल का पैसा और इस योजना की मॉनिटरिंग के लिए कुल राशि का 1 फीसदी मिलाकर कुल 194 करोड़ 71 लाख 84 हजार 50 रुपए विमुक्त हुए हैं। आदेश में साफ किया गया है कि पिछले वर्ष राशि की निकासी नहीं होने के चलते योजना का लाभ प्राप्त नहीं हो सका।

यह राशि भी 2020-21 के लिए अब जारी की गयी है। मैट्रिक प्रथम श्रेणी से उत्तीण 87 हजार 988 बेटियों को दस-दस हजार
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की 2021 वार्षिक माध्यमिक परीक्षा में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण समान्य कोटि की 29 हजार 810, जबकि पिछड़ा वर्ग (बीसी-2) की 58 हजार 188 छात्राओं को मिलाकर कुल 87 हजार 998 बेटियों के लिए मुख्यमंत्री बालिका प्रोत्साहन योजना में 87 करोड़ 99 लाख 80 हजार रुपए दिए गए हैं। शीघ्र ही जारी राशि से हर छात्रा के खाते में दस-दस हजार का भुगतान होगा।

मैट्रिक प्रथम श्रेणी से उत्तीण 87 हजार 988 बेटियों को दस-दस हजार
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की 2021 वार्षिक माध्यमिक परीक्षा में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण समान्य कोटि की 29 हजार 810, जबकि पिछड़ा वर्ग (बीसी-2) की 58 हजार 188 छात्राओं को मिलाकर कुल 87 हजार 998 बेटियों के लिए मुख्यमंत्री बालिका प्रोत्साहन योजना में 87 करोड़ 99 लाख 80 हजार रुपए दिए गए हैं। शीघ्र ही जारी राशि से हर छात्रा के खाते में दस-दस हजार का भुगतान होगा।

About रंजीत रजक न्यूज़ रिपोर्टर MP/CG

Media
View all posts by रंजीत रजक न्यूज़ रिपोर्टर MP/CG →

Leave a Reply