बिहार में लगेगा लॉकडाउन! कल होगा फैसला, सीएम नीतीश कुमार बैठक कर लेंगे निर्णय

बिहार में कोरोना वायरस तेजी से अपना पैर पसार रहा है. पटना में कोरोना की रफ्तार तेज हो गयी है. बीते 10 दिनों से जिस हिसाब से कोरोना बढ़ रहा है, उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि अगले 10 से 15 दिनों में पटना में प्रतिदिन एक हजार मरीज मिल सकते हैं. आंकड़ों के अनुसार पटना में बीते 10 दिनों में कोरोना ने 20 गुना से अधिक की रफ्तार पकड़ी है.

बिहार में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमितों के आकड़े पर पर जब पत्रकारों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछे कि बिहार में लॉकडाउन लगेगा. इस सवाल पर सीएम नीतीश कुमान ने कहा कि इसके बारे हम कल बैठक करके निर्णय लेंगे. कोरोना वायरस के बढ़ते मामले की समीक्षा करने के बाद ही लॉकडाउन पर फैसला लिया जाएगा.बता दें कि स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार 24 दिसंबर को पटना में मात्र सात कोरोना के मरीज मिले थे. वहीं दो जनवरी को यह आंकड़ा 142 पहुंच गया. पूरे बिहार में यह रफ्तार 27 गुना से अधिक है. राज्य में 24 दिसंबर को मात्र 13 मरीज मिले थे. वहीं दो जनवरी को 352 नये मरीज मिले हैं. राज्य में यह रफ्तार 27 गुना से अधिक है.नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) में रविवार को बड़ी संख्या में डॉक्टर पॉजिटिव पाये गये है. रविवार को मेडिकल स्टूडेंट्स, जूनियर व सीनियर डॉक्टर व रेसिडेंट सहित 194 लोगों की आरटीपीसीआर जांच करायी गयी, जिनमे 84 डॉक्टर संक्रमित पाये गये. शनिवार को 12 डॉक्टर संक्रमित पाये गये थे. इस तरह इस एनएमसीएच के 96 डॉक्टर अब तक संक्रमित हो चुके है. इनमे से पांच डॉक्टरों को भर्ती किया गया है.

About रंजीत रजक न्यूज़ रिपोर्टर MP/CG

Media
View all posts by रंजीत रजक न्यूज़ रिपोर्टर MP/CG →

Leave a Reply