थाना छोला मंदिर पुलिस द्वारा अंधे कत्ल पर्दाफाश

Bhopal। विगत22, 23 जून 2021 की दरमियानी रात को थाना छोला मंदिर क्षेत्र मे एक व्यक्तिआ की उसकी झोपडी मे धारदार हथियार से चोट पहुचा कर हत्या की सनसनीखेज घटना घटित हुई थी जिसमे मृतक की पहचान अन्ना ऊर्फ पी के अब्राहिम के रूप मे हुई थी जो कि झोपडी मे करीवन 20 साल से अकेले रह रहा था और 2003 मे विदिशा जिले मे इलेक्ट्रीशन के पद से बर्खास्त हुआ था ।
दिनाक 23 जून की सुबह पुलिस को सूचना प्राप्त हुई थी कि अन्ना अपनी झोपडी के वाहर मरा पडा है और उसे धारदार हथियार की चोट है थाना छोला मंदिर पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अप0क्र0 438/21 धारा 302 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना प्रारंभ की गई थी ।
वरिष्ठ पुलिस अधिकारीयो द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण किया गया था एवं विवेचना संबधी निर्देश दिये गये थे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री इरसाद वली एवं पुलिस अधीक्षक उत्तर क्षेत्र श्री विजय खत्री एवं अति0 पुलिस अधीक्षक जोन 04 श्री दिनेश कौशल एवं नगर पुलिस अधीक्षक निशातपुरा श्री अनिल त्रिपाठी द्वारा दिये गये मार्ग दर्शन मे करीव 60 संदेही बदमाशो से पूछताछ की गई तथा आस पास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये तव प्रकरण के आरोपी तक पहुचने मे पुलिस को सफलता मिली ।
थाना प्रभारी अनिल सिंह मौर्य एवं उनकी टीम द्वारा लगातार प्रकरण की विवेचना की गई और आरोपी उमेश अहिरवार पिता स्व0 कमल अहिरवार उम्र 27 साल नि0 न्यू ब्लाक कैची छोला झुग्गी को दिनाक 04/10/21 को मय हथियार गिर0 किया गया जवकि प्रकरण का सह आरोपी उमेश अहिरवार का जीजा दीपक पंथी ऊर्फ दीपक झकोरा की पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है दोनो आरोपी ट्रेन मे चाय बेचने का काम करते है पूर्व से दोनो आरोपीयो पर थाना छोला मंदिर मे तीन तीन अपराध है ।
घटना के पूर्व रात्रि मे आरोपीयो ने उनके दोस्त के घर शराब पी थी और उस समय इन दोनो के पास दो बडे चाकू थे और इसी के घर माल होने की बात कर रहे थे घटना के बाद आरोपी उमेश ने शराब पीकर नशे मे अपने दोस्त को यह बात बताई भी थी जिसके आधार पर पुलिस ने मुखविर की सूचना की तस्दीक कर आरोपी उमेश को पकडा और पूछताछ कर प्रकरण का खुलाशा किया दोनो आरोपी चोरी की नियत से अन्ना की झोपडी मे पीछे की तरफ से टूटा हुआ दरबाजा धका कर घूसे थे और मृतक जाग गया और मजबूत कद काठी के मृतक ने इन दोनो आरोपीयो को पकड लिया था जो आरोपीगणो ने अपने आप को छुडाने के लिए मृतक पर चाकूओ से बार किया जिसके कारण मृतक की मृत्यु हो गई और आरोपीगण सीकर राजस्थान भाग गये थे मृतक का एटीएम और पास बुक तथा एक हजार रूपये मृतक की जैब से चोरी किये थे मृतक के खाते मे करीव एक लाख रूपये जमा है पंरतु आरोपी गण उक्त पैसा नही निकाल पाये मृतक का कोई परिवार व रिस्तेदार अभी तक सामने नही आया है प्रकरण मे धारा 450 एवं 34 भादवि तथा 25 आर्म्स एक्ट बढाई गई है ।
प्रकरण मे अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक महोदय भोपाल जोन द्वारा आरोपीयो की खोजवीन एवं गिर0 के लिए 30000 (तीस हजार रूपये ) का ईनाम घोषित किया गया था
पुलिस की सफलता मे थाना छोला मंदिर के उनि0 अयोध्या प्रसाद यादव, उनि0 शिव कुमार द्विवेदी, सउनि महावीर मिश्रा,प्रआर0 2939 संतोष मीणा, प्रआर0 1300 शिवेंद्र सिंह, आर0 1532 जितेंद्र सिकरवार,आर0 1394 शिवराज सिंह, आर0 1641 सुजीत पटैल की भूमिका प्रमुख रही ।

Leave a Reply