शिवानी और उसकी दोनों नाबालिग बहनों के जीवन संवारने की भी होगी व्यवस्था



जल संसाधन मंत्री श्री Tulsi Silawat ने सांवेर पहुँचकर कोरोना महामारी से अनाथ हुई शिवानी को नियुक्ति पत्र सौपा। बालिका को आंगनवाड़ी सहायिका के रूप में नियुक्ति प्रदान की गई है।

बालिका की माताजी श्रीमती आशा बामनिया,जो बीसाखेड़ी में आंगनवाड़ी सहायिका के रूप में नियुक्त थी,उनकी तथा उनके पति श्री पोपसिंह की कोरोना महामारी से मृत्यु हो गई थी। जिससे शिवानी पर दो बहनों की जिम्मेदारी भी थी।

मंत्री श्री सिलावट ने पहल कर शिवानी को आंगनवाड़ी सहायिका के पद पर अनुकम्पा नियुक्ति दिलवाई। नाबालिग बहनों को मुख्यमंत्री कोविड बाल सेवा योजना में पाँच-पाँच हजार रूपये प्रतिमाह दिलवाने की व्यवस्था भी कराई।

इस योजना में इन दोनों बालिकाओं के शिक्षण, राशन सहित अन्य जरूरतों की पूर्ति भी राज्य शासन द्वारा की जायेगी। साथ ही इन बालिकाओं को एक अन्य योजना में ₹10 लाख की मदद भी कराई जा रही है।

Leave a Reply