मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर में स्वास्थ्य अधोसंरचना में दिखी कमियों को प्राथमिकता के आधार पर दूर किया जा रहा है।

प्रदेशवासियों को उपचार में ऑक्सीजन की कमी न हो, इस उद्देश्य से प्रदेश में ऑक्सीजन प्लांटस लगाने का कार्य युद्ध स्तर पर किया गया। आज मध्यप्रदेश में स्थापित किये जा रहे 190 ऑक्सीजन प्लांट में से 88 प्लांट कार्यशील हो गये हैं। इन 88 प्लांटस की ऑक्सीजन क्षमता 44 हजार 590 लीटर प्रति मिनट है।

सीएम ने कहा कि भविष्य में प्रदेशवासियों को उपचार में ऑक्सीजन की कमी न हो, इस उद्देश्य से अभियान चलाकर प्रदेश में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का कार्य युद्ध स्तर पर किया गया। आज मध्यप्रदेश में स्थापित किये जा रहे 190 ऑक्सीजन प्लांट में से 88 प्लांट कार्यशील हो गये हैं। इन 88 प्लांटस की ऑक्सीजन क्षमता 45 हजार 890 लीटर प्रति मिनट है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi सहित केन्द्रीय मंत्रियों के सहयोग से मध्यप्रदेश को समय पर ऑक्सीजन की उपलब्धता होती रही। इससे हम प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में लोगों की जान बचाने में सफल रहे। प्रधानमंत्री श्री मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में स्थापित हो रहे 190 ऑक्सीजन प्लांट में से 102 प्लांट केन्द्र सरकार के सहयोग से लग रहे हैं। सितम्बर माह के अंत तक सभी 190 प्लांट काम करना शुरू कर देंगे।

Leave a Reply