मैं कोरोना के प्रति देवास की जागरूकता को प्रणाम करता हूँ



देवास नगर निगम ने सबसे पहले प्रथम डोज टीकाकरण का शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया

2 लाख 21 हजार लोगों को प्रथम डोज व 52 हजार को द्वितीय डोज लगा

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने वी.सी के माध्यम से दी सभी को बधाई

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना के प्रति जागरूकता के देवास की जनता के जज़्बे एवं जागरूकता को मैं प्रणाम करता हूँ। देवास नगर निगम ने प्रदेश में सबसे पहले 18 वर्ष एवं अधिक उम्र के सभी लक्षित व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगाने का लक्ष्य हासिल कर लिया है। इसके लिए वहां की जनता, प्रशासन, सामाजिक संगठन, जनप्रतिनिधि, धर्मगुरू सहित सभी बधाई के पात्र हैं।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देवास नगर निगम के अंतर्गत्‍ 18 वर्ष से अधिक आयु के लक्षित सभी 2 लाख 21 हजार 328 व्यक्तियों ने कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगवा लिया है। साथ ही 52 हजार 475 व्यक्तियों (25%) ने दूसरा डोज भी लगवा लिया है। जल्द ही वहां शत प्रतिशत लक्षित व्यक्ति दूसरा डोज भी लगवा लेंगे।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज मंत्रालय से वीसी के माध्यम से देवास में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित सभी को बधाई एवं हार्दिक शुभकामनाएं दीं। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री Vishvas Kailash Sarang, स्वास्थ्य मंत्री श्री Dr Prabhuram Choudhary(वी.सी से), मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मौहम्म्द सुलेमान आदि शामिल हुए।
प्रधानमंत्री श्री मोदी व मुख्यमंत्री श्री चौहान को दिया धन्यवाद
विधायक देवास श्रीमती गायत्री राजे पंवार ने वी.सी. के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके कुशल निर्देशन में यह कार्य संभव हो पाया है। निरंतर वैक्सीन की उपलब्धता रही तथा शासन-प्रशासन की ओर से पूरा सहयोग मिलता रहा। सामाजिक संगठनों, जनप्रतिनिधियो, धर्मगुरूओं, मीडिया तथा आमजन का भी पूरा सहयोग मिला।

ऐसे प्राप्त किया देवास ने शत प्रतिशत लक्ष्य

• नगरीय क्षेत्र देवास को कोविड वैक्सीनेशन के लिए 2.21 लाख का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। जिला प्रशासन द्वारा इसे प्राप्त करने के लिए शासकीय एवं अशासकीय दलों का गठन किया गया। देवास नगर निगम क्षेत्र के समस्त 45 वार्डों मं वार्ड क्राईसिस मैनेजमेंट समितियों को पूर्ण रूप से अपने क्षेत्रों में कार्य करने हेतु प्रशिक्षित किया गया। सम्पूर्ण 45 वार्डों में 18 से 45 आयु के तथा 45+ आयु के नागरिकों का डोर टू डोर सर्वे कर टीकाकरण के प्रति लोगों की भ्रांतियों को दूर कर उन्हें वैक्सीनेशन हेतु मोटिवेट किया गया।
• नगर में 40 स्थानों पर वैक्सीनेशन सेन्टर निर्मित किये गये, जहां स्वास्य् विभाग के अतिरिक्त मुख्य रूप से नगर निगम व महिला एवं बाल विकास विभाग के कर्मचारियों द्वारा वार्ड में नागरिकों को मोटिवेट किया गया।
• नगर में सभी प्रमुख समाजों द्वारा अपनी-अपनी धर्म शालाओं में समाजजनों को एकत्रित कर उन्हें समाज प्रमुखों एवं धर्मगुरूओं के द्वारा टीकाकरण हेतु प्रोत्साहित किया गया। साथ ही प्रशासन द्वारा उन स्थानों पर टीकाकरण केन्द्र स्थापित कर टीकाकरण किया गया।
• दिव्यांग व्यक्तियों के लिए विशेष कैम्प लगाकर वाहनों के माध्यम से घर से सैन्टर तक लाकर वैक्सीनेशन कराया।
• नशामुक्ति केन्द्र में विशेष टीकाकरण अभियान चलाया गया।
• जिला जेल में सभी 18 वर्ष से अधिक के कैदियों का विशेष कैम्प लगाकर वैक्सीनेशन कराया गया।
• ड्राईव इन सैन्टर तुकोजीरॉव पवार स्टेडियम में लगाकर वैक्सीनेशन कराया गया।
• वृद्धाश्रम में विशेष कैम्प लगाकर वैक्सीनेशन कराया गया।
• किन्नर समाज के लोगों का वैक्सीनेशन कार्यक्रम बनाकर कराया गया एवं प्रचार-प्रसार करवाया गया।
• जिला न्यायालय, एमपीईबी के फ्रन्टलाईन हितग्राहियों का कार्यस्थल पर ही वैक्सीनेशन कराया गया।
• मोबाईल टीम बनाकर वृद्धजनों एवं दिव्यांगजनों का घर पर वैक्सीनेशन किया गया।
• औद्योगिक क्षेत्र में स्थित फैक्ट्री एवं कम्पनियों में विशेष सत्र लगाकर वैक्सीनेशन किया गया।

Leave a Reply