मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिव्यांग बच्चों के साथ किया पौध-रोपण

स्मार्ट उद्यान में लगाए केसिया और गुलमोहर के पौधे
आरूषि संस्था के सदस्यों ने भी किया पौध-रोपण

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट उद्यान में आरूषि संस्था के दिव्यांग बच्चों के साथ केसिया और गुलमोहर के पौधे लगाए। मुख्यमंत्री के साथ श्री शुभम तिवारी, श्री राहुल गायकवाड, कुमारी शिवानी सेन और कुमारी करिश्मा ने पौध-रोपण किया। संस्था के श्री अनिल मुदगल, सुश्री सपना गुप्ता और मेघना जायसवाल भी पौध-रोपण में शामिल हुई। संस्था विगत 30 वर्षों से विशेषकर दिव्यांग बच्चों के लिए काम कर रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान को बच्चों द्वारा निर्मित पॉटरी के गमलों में लगे पौधे भेंट किए गए।

संस्था के शिवाजी नगर परिसर में दिव्यांग बच्चों द्वारा मिट्टी माँ नाम से पर्यावरण-संरक्षण के लिए नर्सरी बनाई गई है। दिव्यांग बच्चों द्वारा यहाँ पौधे तैयार किए जाते हैं। स्कूल, कॉलेज, फैक्ट्री आदि के परिसर में लगभग 5 हजार पौधे लगाए गए हैं। संस्था स्वच्छता के लिए भी लोगों को जागरूक करती है।

संस्था का मुख्य उद्देश्य दिव्यांगजन को समाज की मुख्य-धारा से जोड़ना और उनकी क्षमताओं के प्रति समाज को जागरूक करना है। साथ ही मानसिक, दृष्टि, श्रवण बाधित, डाउन सिंड्रोम आदि से प्रभावित बच्चों और बड़ी उम्र के दिव्यांगों के लिए भी संस्था कार्य कर रही है।

आज लगाए गए केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है। गुलमोहर को विश्व के सुंदरतम वृक्षों में से एक माना जाता है। गुलमोहर की पत्तियों के बीच बड़े-बड़े गुच्छों में खिले फूल, इस वृक्ष को अलग ही आकर्षण प्रदान करते हैं। गर्मी के दिनों में गुलमोहर के पेड़, पत्तियों की जगह फूलों से लदे हुए रहते हैं। यह औषधीय गुणों से भी समृद्ध है।

Leave a Reply