गौ ग्रास योजन की शुरुआत रहवासियों की अनोखी पहल


पीथमपुर( लक्ष्मीनारायण पवार ब्यूरो चीफ धार)
चिनार पार्क महू गांव
हिन्दू धर्म में गोग्रास को पुण्यप्रद माना गया है । त्योहार के दिन गोग्रास दिए बिना भोजन न करनेवाले कई हिन्दू हैं, मान्यता है कि,नित्य प्रति भोजन बनाते समय सबसे पहले गाय के लिए रोटी बनानी चाहिये गौग्रास निकालना चाहिये.गौ ग्रास का बड़ा महत्व है।गाय की सेवा स्वयं नारायण भी किया करते थे क्योंकि गाय के शरीर मे सभी देवताओ का वास है।
“गौ के दर्शन,पूजन, परिक्रमा, गाय को सहलाने, गोग्रास देने तथा जल पिलाने आदि सेवा करनी चाहिए। इसी तारतम्य में चिनार पार्क कॉलोनी में गोग्रास के लिए रोज सुबह हर परिवार से रोटी का संग्रह किया जा रहा है और वहां से रोटी, आटा व अन्य खाद्य पदार्थ एकत्रित कर गौभक्तों के स्नेह स्वरूप मिलने वाले इस दान को गऊमाता को समर्पित कर दिया जाता है। संग्रहित समस्त सामग्री को तेलीखेड़ा गऊशाला पहुंचा दिया जाता है। इस योजना को गौ भक्तों का भी पूरा स्नेह मिल रहा है गौ ग्रास एकत्रित करने के लिए तवेरा गाड़ी का संचालन किया जा रहा है। इसके माध्यम से प्रतिदिन तकरीबन 100 किलो रोटी व अन्य खाद्य पदार्थो को गऊमाता की सेवा में सुलभ करवाया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत स्थानीय स्तर पर गो ग्रास समिति का गठन किया गया है। यह समिति ही वाहन का खर्च व वाहन चालक के परिश्रमिक की व्यवस्था करती है। उक्त जानकारी देते हुए सामाजिक कार्यकर्ता दीपक मिश्रा ने बताया है कि गोग्रास व्यवस्था में मुख्य रूप से पं. उमानंद जी तिवारी, प्रमोद शर्मा, रोशन चौबे, प्रवीन वाजपेयी,मनोज सिह, प्रदीप पवार,जगदीश सैनी, रामगोपाल दादा, अमित श्रीवास्तव, आशीष शुक्ला, डां विनोद तिवारी, के. बी. सेन, आर. के. सिह, हेमंत, संजीव भार्गव, रवि मेकालिया, विशाल,संजय यादव, राहुल जैसवाल, धर्मेन्द्र कुशवाहा, हरीकिशन, राम कुमार, मनोज,गोबरधन,लखन,सुरेश साहु, विजय, कनिष्क सेन, आनंद तिवारी , अजीत, लोधी, शुदर्शन साहू,रमन,शुभम,अमित तिवारी, संदीप, कन्हैया, रविन्द्र विश्वकर्मा, ललित पाटिल, दामोदर,गौरव तिवारी, पार्थ शर्मा राहुल, पुष्पेन्द्र ,रोहित बैश,आदि गौ ग्रास व्यवस्था देख रहे हैं।

Leave a Reply