निरंतर प्रयासों से सफलता का मिलता विश्वास

स्वस्थ शरीर और सोच के लिए खेलना जरुरी
खेलों के प्रति बदल रहा नजरिया: श्री पटेल
राज्यपाल ने ओलंपिक खिलाड़ियों का राजभवन में किया सम्मान

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि खेलने से सहयोग, अनुशासन और निरंतर प्रयासों से सफलता मिलने का विश्वास उत्पन्न होता है। हर किसी के जीवन में खेल बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा है कि देश में खेलों के प्रति सरकार और समाज का नजरिया बदला है।

राज्यपाल श्री पटेल गुरुवार को राजभवन में आयोजित ओलंपिक खिलाड़ियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थें। इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, हॉकी कोच श्री अशोक ध्यानचंद, ओलम्पियन एवं भारतीय पुरूष हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह, ओलम्पिक में हॉकी के कांस्य पदक विजेता श्री विवेक सागर, ओलम्पिक प्रतिभागी शूटर श्री ऐश्वर्य प्रताप सिंह एवं खेल प्रतिभाओं के पालक अधिकारी उपस्थित थे।

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा कि जीवन में खेल अच्छी सोच और बेहतर स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। खेल में हार-जीत के परिणाम नहीं, भाग लेना मायने रखता है। भाग लेने से खेल भावना पैदा होती है। खेल व्यक्तियों को आपस में जोड़ता है। एक दूसरे की मदद और सहयोग की भावना को मज़बूत करता हैं। स्वस्थ शरीर के साथ-साथ मानसिक विकास के लिए खेल आवश्यक है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लोगों के बेहतर और स्वस्थ जीवन के लिए खेल और फिटनेस से जुड़ी गतिविधियाँ करा कर, खिलाड़ियों में उमंग भर कर, उन्हें बहुत प्रोत्साहित किया है। फिट इंडिया मूवमेंट ने आम लोगों में फिटनेस के प्रति जागरूकता पैदा की है। खेलों के विकास के लिए उत्साह जनक वातावरण बनाया।

राज्यपाल श्री पटेल कहा कि आज खेलों को प्राथमिकता मिलने लगी है। नई योजनाएं और खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन हो रहा है। खेलो इंडिया जैसी स्कीमों ने उत्साह का वातावरण बनाया है। ‘स्पोर्ट्स फॉर ऑल’ और ‘स्पोर्ट्स फॉर एक्सीलेंस’ को बढ़ावा मिला है। देश के वंचित और दूरस्थ क्षेत्रों की युवा प्रतिभाओं को अब नये अवसर मिले रहे है। एथलेटिक्स, बैडमिंटन, मुक्केबाजी, तीरंदाजी, कुश्ती और निशानेबाजी पर ओलंपिक खेलों के लिए विशेष ध्यान देने की पहल के नतीजे, आज हम सभी देख रहे है। श्री पटेल ने कहा कि मोदी जी ने खिलाड़ी हो, वैज्ञानिक हो, उनकी सफलता अथवा असफलता के अवसर हो, सदैव उनके साथ हो कर, उनका उत्साह वर्धन करते है। प्रतिभाओं के प्रोत्साहन में माननीय मोदी जी बेहद सक्रिय और तत्पर है। खिलाड़ियों को प्रधानमंत्री का फोन करना, उनके खिलाड़ियों और खेलों के प्रति प्रेम और संरक्षण को बताता है। राज्यपाल श्री पटेल ने आशा व्यक्त की है कि भारत खेलों में जिस तेजी से प्रगति कर रहा है, वह दुनिया की खेल शक्ति बनने के भविष्य का संकेत दे रहे है। उन्होंने ओलंपिक खिलाड़ियों का सम्मान कर उन्हें उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि प्रदेश में खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा देकर, देश को खेल शक्ति बनाने के प्रयास किए गए है। ग्रामीण प्रतिभाओं को पहचान कर, उन्हें अत्याधुनिक अधोसंरचना, विशेषज्ञ मार्गदर्शन और प्रशिक्षण की सर्व सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। इसके लिए राज्य में खेल अकादमियाँ कार्य कर रही है। जिनमे 80 प्रतिशत प्रदेश एवं 20 प्रतिशत देशभर से चयनित उत्कृष्टम खिलाड़ियों को प्रशिक्षित किया जाता है।

समारोह के प्रारम्भ में राज्यपाल श्री पटेल ने ओलंपियन खिलाड़ियों का शॉल, स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया। हॉकी प्लेयर विवेक प्रसाद उनकी माता श्रीमती कमला देवी, पिता रोहित प्रसाद हॉकी कोच श्री अशोक ध्यानचंद और भारतीय पुरुष हॉकी टीम के सहायक प्रशिक्षक श्री शिवेन्द्र सिंह को भी सम्मानित किया।

समारोह में राज्यपाल के प्रमुख सचिव श्री डी.पी. आहूजा, प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण श्री गुलशन बामरा और महानिदेशक एवं खेल एवं युवा कल्याण श्री पवन जैन सहित खेल अधिकारी प्रशिक्षक उपस्थित थे।

Leave a Reply