श्रीमद् भागवत कथा को मन में उतारने से जीवन धन्य हो जाता है : पं.घनश्याम शास्त्री जी

श्रीमद् भागवत कथा को मन में उतारने से जीवन धन्य हो जाता है : पं.घनश्याम शास्त्री जी

माधव बाल निकेतन एवं वृद्ध आश्रम कमानी पुल के पास हनुमान चौराहा लक्ष्मी गंज में चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत प्रथम दिवस में बताया कि भागवत की कथा को मन में उतारने से सभी का जीवन धन्य हो जाएगा।अगर इसे सच्चे दिल से सात दिन बैठकर श्रवण कर लिया जाए तो पाप कट जाते हैं। भगवान कृष्ण के दर्शन करने हैं तो, भागवत कथा को सुनने की जरुरत हैं। संसार में अनेक शास्त्र, पुराण, उपनिषद, वेद हैं, किंतु भागवत कथा सभी पुराणों का सार है। जब जन्म जन्मांतर के पूण्य एकचित होते है तो भागवत कथा श्रवण करने का सौभाग्य प्राप्त होता है। उक्त बातें सुप्रसिद्ध भागवताचार्य पं.घनश्याम शास्त्री जी महाराज कहीं। इस अवसर पर गणेश जी की बहुत सुंदर दिव्य झांकी लगाई गई
इससे पहले कलश यात्रा गाजे-बाजे के साथ सुबह 11:00 बजे नई सड़क स्थित पहाड़ वाली माता मंदिर से 108 कलश लेकर माता बहने सिर पर रखकर गाजे-बाजे बग्गी के साथ भव्य कलश यात्रा निकाली यह कथा वृद्धों के सानिध्य में वृद्धों के आशीर्वाद से हो रही है जिसमें माधव बाल निकेतन एवं वृद्ध आश्रम के पदाधिकारी अध्यक्ष पवन भटनागर,चेयरमैन नूतन श्रीवास्तव एवं सभी पदाधिकारी सदस्यगण सहयोगी जनों ने कथा श्रवण की यह कथा 1 फरवरी फरवरी से 7 फरवरी तक आयोजित की जाएगी कथा समय प्रतिदिन 12:00 से 5:00 बजे तक रहेगा । जिसमें सभी संस्था के पदाधिकारी, अध्यक्ष पवन भटनागर , चेयरमैन नूतन श्रीवास्तव , श्रीमती इंदिरा मंगल उपाध्यक्ष, सुनील श्रीवास्तव सचिव, मनोज दुबे सह सचिव, चेतन शर्मा सह सचिव, ‘अनूप श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष, सुरेंद्र श्रीवास्तव ऑडिटर, मोनिका मिश्रा विधि सलाहकार, सीमा सक्सेना अधीक्षक, रणवीर सिंह सदस्य, श्याम श्रीवास्तव,आर के श्रीवास्तव, दिलीप चंद्र गोयल, निष्ठा सिंह, रजनी कुशवाहा, राजेश तोमर, निर्मल पांडे,श्रीमती तृप्ति भटनागर, आशीष श्रीवास्तव, दीपक श्रीवास्तव सहित कलश यात्रा मे श्री विजय शर्मा, श्री दिनेश शर्मा, सोनू सिंह राजावत, संपादक बिनय अग्रवाल जी, यू एन आई से अजय मिश्रा, गौरवशाली सामाजिक संस्था अध्यक्ष शिल्पा डोगरा, वासुदेव मिश्रा, रानी गौड़ जी के साथ साथ अन्य सदस्य एवं सहयोगी जन व सैकड़ों की संख्या मे श्रद्धालु मौजूद रहें। कोरोना काल में मार्क्स एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया एवं कराया जाएगा।

Leave a Reply