रिटायर्ड बुजुर्ग को व्यक्ति को अपनी जान का खतरा

ग्वालियर मध्यप्रदेश
रिपोर्टर सागर शर्मा
रिटायर्ड बुजुर्ग को व्यक्ति को अपनी जान का खतरा
मध्यप्रदेश के ग्वालियर में एक बार फिर भरोसे के कत्ल की उस वक़्त सामने आई है जब 90 साल बुजुर्ग की देखभाल करने वाली केअर टेकर ने भरोसे में लेकर बुजुर्ग के मकान हड़प कर अपने नाम रजिस्ट्री तक करा ली , इस मामले में रजिस्टार की भूमिका पर भी सवाल खड़े हो रहे, दूसरी और देखा जाए तो रजिस्ट्रार कार्यालय मेंरजिस्टर की उपस्थिति में व्यक्ति से पूछा जाता है कि यदि आप की सहमति है क्या नहीं, पर इस तरह का कोई भी सवाल पीड़ित से नहीं पूछा गया, अब बेबस बुजुर्ग न्याय के लिए सभी जगह गुहार लगा चुके है ,मगर न्याय की उम्मीद नही दिख रही है । कई जगह इन्होंने आवेदन भी दिया पर अभी तक कोई भी सुनवाई नहीं हुई, रिटायर्ड बुजुर्ग व्यक्ति को अपनी जान का खतरा भी बना हुआ है, क्योंकि जब केयरटेकर भरोसे में लेकर मकान की रजिस्ट्री करवा सकती है तो मकान हड़पने के लिए मुझ पर हमला भी करवा सकती है, मामला ग्वालियर के रहने वाले रिटायर्ड प्रिंसिपल का है

वीओ – सुरक्षा की दृष्टि से अब उन्होंने पूरे घर में सीसीटीवी कैमरे भी लगा लिए हैं,गवालियर के चेतकपुरी में रहने वाले रिटायर्ड प्रिंसिपल है जी एल कुलश्रेष्ठ ने पत्नी की मौत के बाद देखभाल के लिये एक महिला केअर टेकर को रख के तौर पर रख लिया , मगर केअर टेकर महिला ने अपने पति के साथ मिलकर बजुर्ग को भरोसे में लेकर बुजुर्ग के मकान की रजिस्ट्री और नामांतरण कर अपने नाम करवा लिया, ताज्जुब की बात रही कि रिटायर्ड प्रिंसिपल इस बात से अनजान बने रहे कि उनके मकान की रजिस्ट्री किसी और के नाम हो गयी है ,पूरे मामले का खुलासा उस वक़्त हुआ जब केअर टेकर महिला मकान की रजिस्ट्री अपने नाम करा कर मकान बेचने के लिए रिटार्यड प्रिंसिपल के अमेरिका में रहने वाले उसके बेटे को इस बात की खबर दोस्त से लगी
जिसके बाद बुजुर्ग को इस धोखाधड़ी का पता चला तो मानो जमीन खिसक गई,अब बुजुर्ग अपने खुद के मकान के लिए सभी अधिकारियों से मिलकर धोखेबाज महिला और उसके पति के खिलाफ मामला दर्ज कराने के गुहार लगा चुके है , मगर अब तक कोई सुनवाई नही हो सकी है , वही इस मामले में रजिस्ट्री करने वाले अधिकारी की भूमिका भी संदिग्ध लग रही है क्योंकि गवाह के तौर पर साइन करने के बाद उनके मकान की रजिस्ट्री दूसरे के कैसे हो गयी

बाइट – जी,एल,एल ,कुलश्रेष्ट

About अनिरुद्ध त्रिपाठी ग्वालियर

View all posts by अनिरुद्ध त्रिपाठी ग्वालियर →

Leave a Reply