गोटेगांव समीपस्थ ग्राम कुकलाह में चल रही श्री शिवमहापुराण

समीपस्थ ग्राम कुकलाह में चल रही श्री शिवमहापुराण में कथा व्यास पंडित उमाशंकर जी दुबे ने आज कथा में माता पर्वती जी के जन्म की कथा ,पर्वती जी द्वारा शिव जी को पति रूप में प्राप्ति लिए ,माता पर्वति जी ने बन ,पर्वतो पर अथक साधना कर शिव पर्वति के विवाह के योग निर्मित हुआ ,माता पर्वति जी ,महादेव के विवाह का अदभुत वर्णन किया ,शिव जी की बारात में ऐसे बाराती किसी अन्य के विवाह में नई आए ,मैना शिव जी को देखकर व्याकुल हो उठी और मन डोल गया कि में अपनी बेटी को शिव के साथ नहीं विवाह करुँगी ,सभी के समझाने पर माता मैना तैयार हो जाती है और शिव पार्वति का विवाह सम्प्पन होता है| आज कथा में
वि‌‌शिष्ट अतिथि में सरकार सिंह जी पटेल दपकिया, श्री कमलेश जी शर्मा (ज़िला बौद्धिक प्रमुख-राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ) ,नर्मदा प्रसाद जी गुप्ता(प्रधानाचार्य सरस्वती विद्यालय गोटेगांव), भूपत सिंह( सरपंच) देवरी,मस्तराम पटेल जी सुनवारा, चेतराम जी पटेल,भरत जी सालीबाडा विशाल सिंह जी पटेल भडरि ,भगवान पटेल मनकवारा,ब्रजु सिमरिया,ठाकुर साहब जी कमोद,चो.धनंजय जी कुमझोर,व ग्राम के सभी सम्मानीय बंधु,व मातृशक्ति बड़ी संख्या में उपस्तिथ रहे हैं |

Deepak sarathe – Reporter http://www.dgnews.co.in

Leave a Reply