भारत के 40 उज्जवल युवा राजनेताओं में, मप्र के मणिनागेंद्र सिंह पटेल प्रभावी युवा राजनेता

भारत विश्व के सबसे बड़े लोकतान्त्रिक देशों में अग्रणी देश है और इस कालखंड में भारत पूरे विश्व में युवाओं के देश के नाम से अपनी एक अनूठी पहचान बनाये हुए है। युवाओं के हर क्षेत्र में आगे आने से भारतवर्ष में सकारात्मक परिवर्तन देखने को भी मिल रहा है। भारतवर्ष की इस वैश्विक पहचान का पूरा श्रेय देश के उन युवाओं को जाता है, जिनकी इनोवेटिव सोच ने देश की राजनीतिक, प्रशासनिक और सामाजिक व्यस्थाओं में क्रांतिकारी परिवर्तन लाया है। पिछले कुछ वर्षों में भारतीय युवाओं ने अपने विशिष्ट शैली और खास अंदाज से पूरे विश्व के दिग्गजों का ध्यान देश की ओर आकर्षि‍त किया है। भारत में न केवल प्रशासनिक, तकनीक और व्यापार जगत में बल्कि राजनीति के क्षेत्र में भी सुशिक्षित, सभ्य, दक्ष और हर विधा में पारंगत समझदार नौजवानों का पदार्पण हुआ है। इन युवा राजनीतिक चेहरों की दूरदर्शिता और सूझ-बूझ पर देश की तमाम बड़ी राजनीतिक पार्टियां भी दांव खेलते नजर आ रही हैं।

भारतवर्ष में हर जगह हर क्षेत्र में युवा जोश अपनी नयी सोच व नये विचारों के साथ आगे बढ़ रहा है इसलिए देश की सियासत में रंग बिखेरते राजनीति के उज्जवल सितारों को प्रोत्साहित करना जरुरी हो जाता है। इन सबको ध्यान में रखते हुए एशिया की प्रतिष्ठित मैगज़ीन फेम इंडिया ने एशिया पोस्ट सर्वे एजेंसी के साथ मिलकर संयुक्त रूप से एक सर्वे किया है, जिसमें मैगजीन ने 40 वर्ष से कम उम्र में ही राजनीतिक गलियारों में विशेष ऊँचाइयां छू रहे, नित नए आयाम और मानदंड स्थापित कर रहे, देश के युवा राजनेताओं के बढ़ते कद की मजबूती को परखा है।

एशिया की प्रतिष्ठित मैगज़ीन फेम इंडिया और एशिया पोस्ट सर्वे एजेंसी ने योग्यता, अनुभव, छवि, कार्य, दूरदर्शिता, संवाद क्षमता और लोकप्रियता जैसे प्रमुख उपलब्धियों को पैरामीटर बनाकर किये गए संयुक्त सर्वे में देश भर से 40 वर्ष से कम आयु के अग्रणी और होनहार 40 युवा राजनेताओं की लिस्ट तैयार कर जारी की है, जिसमें कर्नाटक के युवा सांसद तेजस्वी सूर्या, बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, महाराष्ट्र के सीएम के बेटे आदित्य ठाकरे, हरियाणा के सीएम दुष्यंत चौटाला और मध्यप्रदेश के युवा तुर्क राजनेता मणिनागेंद्र सिंह पटेल (मोनू पटेल) समेत देश के 40 सबसे प्रभावी युवा राजनेताओं को शामिल किया है।

मध्यप्रदेश के लिए ये गौरव का क्षण है कि एशिया की बहुप्रतिष्ठित मैगजीन ने अपने सर्वे में भारत के 40 कद्दावर युवा तुर्कों में प्रदेश के नरसिंहपुर जिले के प्रभावी युवा मणिनागेंद्र सिंह पटेल (मोनू पटेल) को देश भर के युवाओं के बीच सबसे प्रभावी व्यक्तित्व में से अग्रणी पाते हुए अपनी सूची में विशिष्ट स्थान दिया है।

कौन हैं मणिनागेंद्र सिंह पटेल (मोनू पटेल)

मध्यप्रदेश के महाकौशल का एक ऐसा युवा नेता जो राजनीति के साथ-साथ धार्मिक सद्भाव एवं सामाजिक सरोकारों के लिए पूरे प्रदेश में बहुचर्चित है। मणिनागेंद्र सिंह पटेल मोदी सरकार में पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल के सगे भतीजे हैं। मणिनागेंद्र सिंह पटेल मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री और नरसिंहपुर से विधायक जालम सिंह पटेल के सुपुत्र हैं। मणिनागेंद्र सिंह पटेल की महाकौशल क्षेत्र में युवाओं के बीच एक अलग पहचान है। भले ही आयु में मणिनागेंद्र सिंह पटेल को कमतर आँका जा सकता है लेकिन उनकी योग्यता, अनुभव, छवि, कार्य, दूरदर्शिता, संवाद क्षमता और लोकप्रियता पर सवाल नहीं उठाया जा सकता। मणिनागेंद्र सिंह पटेल अपनी प्रबंधन शैली और दूरदर्शिता को लेकर युवाओं के बीच अपनी अलग ही पहचान बनाये हुए हैं। यही नहीं मणिनागेंद्र सिंह पटेल सामाजिक सरोकारों के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ अपने आपको जनसामान्य के बीच रखते हैं और उनके इसी सौम्य स्वभाव की वजह से उनकी छवि पूरे प्रदेश में युवाओं के बीच अनुकरणीय बनी हुयी है। मणिनागेंद्र सिंह पटेल को प्रदेश का सबसे उभरता हुआ युवा राजनेता भी माना जा रहा है। आनेवाले समय में प्रदेश की राजनीति में मणिनागेंद्र सिंह पटेल, क्या नए आयाम स्थापित करते हैं ये तो वक़्त ही बताएगा। लेकिन वर्तमान कालखंड को देखते हुए ये साफ़ जाहिर है कि मणिनागेंद्र सिंह पटेल प्रदेश की सियासत में उभरते हुए युवा तुर्क हैं और शायद यही वजह है की एशिया की सबसे प्रतिष्ठित मैगजीन फेम इंडिया ने उन्हें भारत के सबसे कदावर युवा नेताओं की लिस्ट में शामिल किया है।

Leave a Reply