आगामी त्यौहार दुर्गा उत्सव व दशहरा पर्व के दौरान शहर में शांति व सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर शांति व नगर/ रक्षा समिति व झाँकी आयोजकों की बैठक

आईजी भोपाल जोन श्री योगेश देशमुख एवं डीआईजी शहर श्री इरशाद वली के निर्देशानुसार आगामी त्यौहार दुर्गा उत्सव व दशहरा पर्व के दौरान शहर में शांति व सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर शांति व नगर/ रक्षा समिति व झाँकी आयोजकों की शहर के विभिन्न थाना क्षेत्रों में एएसपी, सीएसपी/एसडीओपी व थाना प्रभारियों द्वारा बैठक आयोजित की गई एवं संवेदनशील इलाको में पैदल भ्रमण किया गया व भीड़भाड़ वाले इलाकों का भ्रमण किया एवं विभिन्न स्थानों पर बेरिगेटिंग कर संदिग्धों व वाहनों को चेक किया गया।

विगत दिनों से लगातार विभिन्न थानों में शांति व नगर/ग्राम रक्षा समिति की बैठक आयोजित की जा रही है। इसी क्रम में आज दिनांक 22 सितंबर को थाना बैरसिया, कमला नगर, अयोध्या नगर, सुखीसेवनिया, बागसेवनिया, गांधीनगर, पिपलानी, हनुमानगंज, कटारा हिल्स, बिलखिरिया, परवलिया, बजरिया, टीला, अवधपुरी, हबीबगंज, अशोका गार्डन, छोलामन्दिर आदि थानों में बैठक ली जाकर महत्वपूर्ण दिशा निर्देश व सुझाव दिए गए। बैठक में सुरक्षा समिति, झांकी आयोजकों के अलावा गणमान्य नागरिकगण, क्षेत्रीय पार्षद, सरपंच, नगर निगम, mpeb, pwd आदि विभागों के अधिकारी मौजूद रहे, जिन्होने भीअपनी प्रतिक्रिया व विचार रखे।

बैठक का मुख्य उद्देश्य त्यौहार के दौरान शांति व सुरक्षा व्यवस्था कायम रखना। बैठक में शांति समिति को त्यौहार के दौरान सुरक्षा व्यवस्था बनाने में पुलिस का विशेष सहयोग करने हेतु अपील करते हुए समिति को सक्रिय करने व नए सदस्यों को जोड़ने हेतु आवश्यक निर्देश दिए गए साथ ही दुर्गोत्सव के दौरान गरबा, डांडिया, मेला, चल समारोह आदि में संवेदनशीलता से सहयोग करने हेतु बताया गया।

बैठक में झाँकी आयोजकों को सुझाव व निर्देश दिए गए कि जो भी झांकी समिति के लोग माता रानी का दरबार सजाएंगे वह लोग ध्यान रखें झांकी के अंदर जुआ एवं शराब का सेवन ना करें और झांकी की सुरक्षा के लिए एक व्यक्ति को रात में सोने के लिए जरूर छोड़ें एवं तेज आवाज ध्वनि यंत्र पर प्रतिबंध लगा हुआ है। इसी को देखते हुए केवल दो स्पीकर ही झांकी पर लगा कर ध्वनि यंत्र का इस्तेमाल करें एवं सभ्य व धार्मिक गीतों का संचालन करें। चल समारोह व जुलूस शांति पूर्ण तरीके से निकालेंगे व सद्भावना पूर्वक त्यौहार मनाएंगे।

Leave a Reply