इंदौर बना देश का पहला वॉटर प्लस शहर

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने दी बधाई

स्वच्छता में चार बार से देश में नंबर एक इंदौर ने स्वच्छता विजय यात्रा में एक और उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है। भारत सरकार द्वारा आज जारी परिणामों में इंदौर को देश का प्रथम वॉटर प्लस शहर घोषित किया गया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने इस उपलब्धि के लिये इंदौर नगर निगम के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ ही नागरिकों को बधाई दी है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सबसे स्वच्छ शहर का दर्जा प्राप्त करने के बाद अब इंदौर देश का पहला वॉटर प्लस सिटी बन गया है। यह इतिहास रचने के लिए सभी इंदौरवासियों को बधाई। आप पर, आपकी कार्यशैली और आपके अनुशासन पर पूरे प्रदेश को गर्व है।

उल्लेखनीय है कि वॉटर प्लस की चयन प्रक्रिया में देश के 84 शहरों ने आवेदन किये थे, जिसमें से सिर्फ 33 शहरों को जमीनी सत्यापन के लिये उचित पाया गया था। जमीनी सत्यापन में इंदौर शहरवासियों की मेहनत ने एक बार फिर इतिहास रचा है।

स्वच्छता भारत मिशन शहरी के अंतर्गत देश के शहरों का विभिन्न स्वच्छता मानकों के आधार पर परीक्षण किया जाता है। इसमें ओडीएफ प्लस, ओडीएफ डबल प्लस और वॉटर प्लस की श्रेणियाँ हैं। वॉटर प्लस का प्रमाण-पत्र उन शहरों को दिया जाता है, जिन्होंने ओडीएफ डबल प्लस के सभी मानकों को पूर्ण किया हो। साथ ही आवासीय और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों से निकलने वाले अवशिष्ठ मल-जल को उपचार के बाद ही पर्यावरण में छोड़ा जाता हो। ट्रीटेड वेस्ट-वॉटर का पुन: उपयोग भी सुनिश्चित किया जाता हो।

Leave a Reply