नीमच हिंसा पर मप्र युवक कांग्रेस अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया की सरकार को चेतावनी, दोषियों को कड़ी सजा के रूप में फांसी देने की मांग

 झाबुआ। भाजपा के शासनकाल में पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल बना हुआ है। भाजपा का गुंडा तत्व बेखौफ हो कर हिंसा पर उतारू है। युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया ने नीमच की घटना पर सरकार को चेतावनी देते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की है।
नीमच में एक आदिवासी को गाड़ी से बांधकर खींचने का मामला सामने आया था। जिसके बाद विडियो पूरे देश में तेज़ी से फैल गया, इलाज के दौरान पीड़ित आदिवासी की मृत्यु हो गई। विक्रांत भूरिया ने बताया कि इस भीड़तंत्र की घटना के 8 में से कई आरोपी अभी तक फ़रार है।भूरिया ने यह भी आरोप लगाया कि इस पूरी हिंसा के मामले में भाजपा के सरपंच का नाम भी है, जिससे यह प्रमाणित होता है कि ऐसी घटनाएं चरणबद्ध तरीक़े से  हो रही है, जिससे साफ जाहिर होता है कि इन्हें भाजपा नेताओं का आश्रय व श्रेय प्राप्त है। युवा कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि प्रदेश के कमजोर वर्गों को तालिबानी संस्कृति का शिकार बना कर भाजपा के समर्थक राजनीतिक रोटियां सेंकने का काम कर रहे है, क्यूकि यह चरणबद्ध तरीक़े से नेमावर, नीमच, इंदौर, देवास में पिछले कुछ दिनों में घटित हुआ है।
कार्रवाई नहीं होने पर प्रदर्शन भूरिया ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि मप्र सरकार आज हर वर्ग को आपस में और एक दूसरे को लड़ाने का काम कर रही है। कभी धर्म के नाम पर तो कभी जातिवाद के आधार पर। भूरिया का कहना है कि अगर सारे आरोपियों की गिरफ़्तारी नहीं हुई तो वो पूरे प्रदेश से बड़ी संख्या में आदिवासियों को ले कर नीमच में प्रदर्शन करेंगे, जिसके लिए सरकर ज़िम्मेदार होगी। विक्रांत भूरिया ने दोषियों को फांसी की मांग करते हुए कहा है कि प्रदर्शन न्याय मिलने तक जारी रहेंगे। उक्त जानकारी कांग्रेस के संभागीय कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल ने दी

Leave a Reply