केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने अधिकारियों से जम्मू-कश्मीर में सड़क राजमार्ग परियोजनाओं में तेजी लाने को कहा

खेलानी-गोहा सड़क राष्ट्रीय राजमार्ग-244 का काम डबल शिफ्ट यानी दो पालियों में किया जाएगा, जिससे महामारी के कारण हुए विलंब को पूरा करने के साथ-साथ यह सुनिश्चित किया हो कि पूरी परियोजना आंशिक रूप से इस वर्ष के भीतर और आंशिक रूप से अगले वर्ष तक पूरी हो जाए।

केंद्रीय मंत्री और उधमपुर-कठुआ-डोडा लोकसभा क्षेत्र से सांसद डॉ जितेंद्र सिंह ने आज यहां जम्मू और कश्मीर में एनएचआईडीसीएल (राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड) की विभिन्न परियोजनाओं की ताजा स्थिति की जानकारी प्रबंध निदेशक (एमडी) एनएचआईडीसीएल, चंचल कुमार से लेने के बाद यह खुलासा किया।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/djs-1278R.jpg?w=810&ssl=1

चंचल कुमार ने बताया कि मंत्री ने जम्मू और कश्मीर दोनों क्षेत्रों में चल रही एनएचआईडीसीएल की प्रत्येक परियोजना की बारीकी से विस्तृत जानकारी ली और करीब डेढ़ घंटे तक हर पहलू के हर छोटे विवरण पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि मंत्री चाहते थे कि परियोजनाओं में तेजी लाने के प्रयास किए जाने चाहिए ताकि कोविड को लेकर हुई देरी को काफी हद तक पूरा किया जा सके।

जहां तक खेलानी-गोहा परियोजना का संबंध है, डॉ. जितेंद्र सिंह का दृढ़ मत था कि परियोजना के महत्व को देखते हुए कार्य दो पालियों में किया जाना चाहिए। तदनुसार, चंचल कुमार ने मंत्री को आश्वासन दिया कि वह तत्काल जरूरी आदेश जारी करेंगे और निर्माण एजेंसियों व संबंधित ठेकेदारों से इस संबंध में अधिक से अधिक सहयोग प्राप्त करने का प्रयास करेंगे।

गोहा-खेलानी-खन्नाबल राष्ट्रीय राजमार्ग यानी एनएच-244 चेनानी-सुधमहादेव-खेलानी-चट्टरू-खन्नाबल को जोड़ने वाला सड़क परिवहन का एक वैकल्पिक मार्ग प्रदान करेगा, जो न सिर्फ यात्रा और राजस्व में सहूलियत प्रदान करेगा, बल्कि सुरक्षा की दृष्टि से भी यह महत्वपूर्ण होगा। महामारी के बाद तय की गई समय-सीमा के अनुसार, गोहा-खेलानी सड़क का पहला चरण इस साल दिसंबर तक पूरा होने की संभावना है, जबकि किश्तवाड़ जिले में चटरू तक के आगे के हिस्से के फरवरी 2023 तक पूरा होने की संभावना है।

इस बीच, एनएच-244 के चेनानी-सुधमहादेव सड़क खंड को दो लेन का बनाने का काम एक बड़े पुल को छोड़कर इस साल मार्च तक पूरा होने की संभावना है। खेलानी-खन्नाबल खंड पर दोनों दिशाओं में सुरंग का निर्माण भी किया गया है और इसके इस साल अक्टूबर तक 76.49 करोड़ रुपये की लागत से पूरा होने की संभावना है। ंएमडीएनएचआईडीसीएल के एमडी ने मंत्री को जम्मू जिले की परियोजनाओं मंे राष्ट्रीय राजमार्ग -144ए के जम्मू-अखनूर खंड के चार लेन की ताजा स्थिति की जानकारी दी।

कश्मीर घाटी में एनएचआईडीसीएल की प्रमुख परियोजनाएं जिनके बारे में मंत्री को अवगत कराया गया था, उनमें जोजिला स्थित दोनों दिशाओं में सुरंग, जेड-मोड़ सुरंग, एनएच एनएच-701 ए के बारामूला-गुलमर्ग खंड का उन्नयन, एनएच -244 और एनएच-44 को जोड़ने वाले नए दो-लेन अनंतनाग बाईपास का निर्माण शामिल है।

Leave a Reply