सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री श्री नारायण राणे ने बजट में बढ़ोतरी करने और उनके मंत्रालय की प्रमुख योजनाओं को सहायता जारी रखने के बारे में वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण से मुलाकात की

 

केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्री श्री नारायण राणे ने आज केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण से संसद भवन स्थित उनके कार्यालय में मुलाकात की और बजट बढ़ाने तथा एमएसएमई मंत्रालय की प्रमुख योजनाओं को जारी रखने के बारे में विस्तृत चर्चा की। श्री राणे ने कोविड से प्रभावित एमएसएमई इकाइयों की ऋण जरूरतों का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने एमएसएमई की विनिर्माण क्षमता को बढ़ाने के लिए चीन से बाहर आने वाले विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए विश्वसनीय नीति की जरूरत पर प्रकाश डाला। उन्होंने एमएसएमई को ऋण देने के संबंध में बैंकों की उदासीनता और बेरुखी के बारे में एमएसएमई उद्यमियों की प्रतिक्रिया श्रीमती सीतारमण के साथ साझा की।

वित्त मंत्री ने इस क्षेत्र के विकास के लिए एमएसएमई के बजट को बढ़ाने के बारे में अपने समर्थन का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि बैंकों को एमएसएमई की जरूरतों के प्रति संवेदनशील होने के लिए कहा जाएगा और बैंकरों तथा एमएसएमई कर्जदारों के बीच जिला स्तर पर बातचीत होगी।

श्री नारायण राणे ने आशा व्यक्त की कि वित्त मंत्री के समर्थन से, एमएसएमई क्षेत्र महामारी के बाद आर्थिक सुधार का नेतृत्व करेगा।

****

Leave a Reply