IPO – LIC से सरकार को मिले 20557 करोड़, अब लिस्टिंग का इंतजार

LIC IPO news LIC ने अपने पालिसीधारकों को 60 रुपये तो खुदरा निवेशकों को 45 रुपये डिस्काउंट पर शेयर आवंटित किए हैं। इसकी 17 मई को शेयर बाजार में लिस्टिंग होगी। सरकार ने करीब 20557 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

नई दिल्ली। सरकार ने जीवन बीमा निगम (एलआइसी) के IPO के माध्यम से LIC में 22.13 करोड़ से अधिक शेयर या 3.5 प्रतिशत हिस्सेदारी बेची है। शेयर बिक्री से सरकार को करीब 20,557 करोड़ रुपये मिले हैं। इससे पहले कंपनी ने आइपीओ का इश्यू प्राइस 949 रुपये तय किया है। 

विश्लेषकों का एलआइसी आइपीओ शेयरों की लिस्टिंग पर मिला-जुला रुख है। कुछ को 10 फीसद प्रीमियम लिस्टिंग की उम्मीद है, जबकि अन्य का सुझाव है कि LIC के शेयरों पर स्टॉक मार्केट की शुरुआत के बाद कॉल करें। इससे निवेश में जोखिम कम रहेगा ।

पालिसीधारकों और खुदरा निवेशकों को क्रमश: 889 रुपये और 904 रुपये के भाव पर शेयर मिले हैं। यानि कि पालिसीधारकों को एक शेयर पर 60 रुपये और खुदरा निवेशकों को 45 रुपये का डिस्काउंट मिला है। 17 मई को एलआइसी शेयर की बाजार में लिस्टिंग होगी।

आइपीओ चार मई को खुला था। निवेशकों ने नौ मई तक आवेदन किया। 12 मई को बोली लगाने वालों को शेयर आवंटित किए गए। देश का सबसे बड़ा आइपीओ लगभग तीन गुना सब्सक्रिप्शन के साथ बंद हुआ था। खुदरा और संस्थागत खरीदारों इसे हाथोंहाथ लिया। हालांकि विदेशी निवेशकों ने अधिक उत्साह नहीं दिखाया था।

लिस्टिंग पर स्‍ट्रैटेजी

विश्लेषकों ने कहा कि बाजार में उतार-चढ़ाव का असर एलआइसी के लिस्टिंग डे के प्रदर्शन पर पड़ सकता है। वे उम्मीद करते हैं कि एलआइसी छूट के साथ शुरुआत करेगी और निवेशकों को कोई लिस्टिंग फायदा बुक करने की संभावना नहीं है। हालांकि, पॉलिसीधारकों और खुदरा निवेशकों को दी जाने वाली छूट के कारण वे लिस्टिंग पर मामूली लाभ कमा सकते हैं।

,

Leave a Reply