संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में पहली बार प्रदेश से हुआ 38 विद्यार्थियों का चयन

  • मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan बुधवार 13 अक्टूबर को करेंगे प्रतिभाओं का सम्मान
  • मंच पर आसीन होंगे विद्यार्थी



भोपाल। मध्यप्रदेश से प्रतिवर्ष औसत रूप से 15 से 20 विद्यार्थी संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में चुने जाते हैं। प्रदेश में पहली बार संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में 38 विद्यार्थी चयनित हुए हैं। यह प्रदेश के लिए गौरव पूर्ण उपलब्धि है। चयनित विद्यार्थियों का सम्मान होने से अन्य विद्यार्थी भी इस तरह की सफलता प्राप्त करने की प्रेरणा ग्रहण करेंगे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात आज संघ लोक सेवा आयोग द्वारा चयनित विद्यार्थियों के सम्मान समारोह की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कही। मुख्यमंत्री निवास में आयोजित बैठक में 13 अक्टूबर को अपरान्ह 3 बजे मिंटो हाल मुख्य सभाकक्ष में हो रहे कार्यक्रम “सफलता के मंत्र” की तैयारियों पर चर्चा हुई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह समारोह अन्य विद्यार्थियों के लिए भी प्रेरक होगा। कार्यक्रम में “प्रतिभाओं का परचम” पुस्तिका का विमोचन भी होगा। इसका प्रकाशन जनसंपर्क विभाग ने किया है।

लाखों विद्यार्थी जुड़ेंगे कार्यक्रम से

सफलता के मंत्र कार्यक्रम से प्रदेश के लाखों विद्यार्थी जुड़ेंगे। कक्षा 11वीं और 12वीं के कुछ विद्यार्थी भी मिंटो हाल के कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे और अन्य माध्यमों से कार्यक्रम से जुड़ेंगे। विद्यार्थियों के लिए यह कार्यक्रम काफी उपयोगी रहेगा। सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म पर कार्यक्रम को प्रसारित किया जाएगा।



चयनित विद्यार्थियों से मुख्यमंत्री श्री चौहान संवाद भी करेंगे

यूपीएससी में चयनित छात्र-छात्राओं द्वारा किए गए परिश्रम और प्राप्त सफलता की कहानी भी सुनाई जाएगी। सभी सफल विद्यार्थी से मुख्यमंत्री श्री चौहान संवाद करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान अन्य विद्यार्थियों को संबोधन भी देंगे।

चयनित विद्यार्थी होंगे मंच पर

“सफलता के मंत्र “कार्यक्रम में यूपीएससी में चयनित विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सम्मान पूर्वक आमंत्रित करने के निर्देश दिए हैं। यूपीएससी में चयनित हुए बच्चे भी मंच पर ससम्मान बैठेंगे। हाल ही में देश की महिला हॉकी टीम के सम्मान में हुए कार्यक्रम में भी सभी महिला खिलाड़ी मंच पर आसीन थीं। इसी तर्ज पर यूपीएससी के चयनित विद्यार्थी मंच पर उपस्थित होंगे। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कार्यक्रम की तैयारियों को आज अंतिम रूप दिया गया। प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री अनुपम राजन ने बताया कि संघ लोक सेवा आयोग में इस वर्ष चयनित अधिकांश विद्यार्थी साधारण परिवार के सदस्य हैं। इन सभी ने नियमित अध्ययन और पाठ्यक्रम को केंद्र में रखकर परीक्षाओं की तैयारी की।

मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी, आयुक्त जनसंपर्क डॉ. सुदाम खाड़े और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply