शातिर अपराधी पुलिस की गिरफ्त में

धार जिला ब्यूरो चीफ डीजी न्यूज़

एंकर — धार पुलिस ने एक ऐसे शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है, जिसने कई अधिकारियों और नेताओं के नंबरों से उनके अधीनस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों को फोन लगाकर अपने काम निकलवाए थे..
आरोपी उस वक्त पुलिस के हत्थे चढ़ गया जब उसने सागोर थाना प्रभारी को दो बार धार पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह के नाम से , उन्हीं के नंबर से फोन लगाकर अपने अंकल की शस्त्र विक्रय की फाइल पास करने के लिए दबाव बनाया..
इस दौरान सागौर थाना प्रभारी को शक होने पर उन्होंने बार-बार उस आवाज का परीक्षण कर यह पाया की यह आवाज पुलिस अधीक्षक महोदय की नहीं है,किन्तु नंबर उन्ही का है, बल्कि यह आवाज राजपाल नामक युवक की आवाज से काफी मैच हो रही है जो खुद बार-बार अपने अंकल की बंदूक की फाइल के लिए फोन लगा रहा था..
इस पर जांच करते हुए पुलिस ने पाया कि आरोपी राजपाल सिंह से जो कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है और अपने पिता के कंस्ट्रक्शन के व्यवसाय में लगा हुआ है… अपने मोबाइल में फेक कॉल एप्लीकेशन डाउनलोड करके अधिकारियों और नेताओं के नंबर से कॉल करके रौब झाड़ रहा है और अपने काम निकलवा रहा है…
आरोपी से जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया और बताया कि उसने अपने मोबाइल में एक फेक कॉल ऐप डाउनलोड कर रखा है जिसके द्वारा किसी के भी नंबर से किसी को भी फोन लगाया जा सकता है..उसने कई बार इंदौर क्षेत्र क्रमांक 2 के विधायक रमेश मेंदोला और अन्य कई वरिष्ठ अधिकारियों और नेताओं के नाम से फोन लगाकर अपने काम निकलवाए हैं
किन्तु इस बार पुलिस अधीक्षक के नंबर का उपयोग करने पर वह पकड़ा गया…
Byte – राजपाल सिंह, आरोपी
Byte 2- आदित्य प्रताप सिंह, S P, धार
धार से लक्ष्मीनारायण पवार ब्यूरो चीफ कि रिपोर्ट

Leave a Reply

%d bloggers like this: