नगरी (मंदसौर)आखिर क्यों ?खुद प्रशासनिक अधिकारी भी नहीं सुन रहे हैं पीड़ित तुलसीराम नायमा की गुहार

डीजी न्यूज
इंडिया
मंगल देव राठौर की खास रिपोर्ट

मंदसौर जिले के अंतर्गत आने वाले ग्राम नगरी में पीड़ित तुलसीराम नायमा की पीड़ा सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे क्योंकि खुद प्रशासनिक अधिकारी भी नहीं सुन रहे हैं पीड़ित तुलसीराम नायमा गुहार लगा चुका है दर दर टोकरे सरकारी चक्कर लगा रहा है जबकि जब पीड़ित तुलसीराम नायमा के द्वारा आवेदन दिया गया तो थाना द्वारा ज्ञापन नहीं सुना गया ओर पीड़ित तुलसीराम नायमा का कहना है कलेक्टर साहब को जनसुनवाई में गुहार लगा चुका है अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई सिविल जज आदेश के अनुसार आरोपी कार्रवाई नहीं हुई है आदेश का पालन करवाएं जावे।परंतु पीड़ित का कहना है मेरे द्वारा शासन प्रशासन को लिखित रूप से अवगत कराने के बाद भी प्रशासन से निवेदन है कि लॉकडाउन में का का कार्य रुकवा जाए पूर्ण रूप से बंद कर वाए जाए सी.एम.ओ. द्वारा प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किया हो गया है पीड़ित का यह भी कहना है की आरोपी की तामिल मेरे पास है ।और कोर्ट के द्वारा भेजी गई तामील भी आरोपी के पास जा चुकी है। ओर तामिल नंबर ऑनलाइन रसीद प्राप्त है। परन्तु इसके बाद भी शासन प्रशासन के द्वारा आरोपी के खिलाफ ना तो कार्रवाई हो रही है ना तो कार्य रुकवाया जा रहा है ।आखिर क्या करें ?पीड़ित का कहना है अगर शासन प्रशासन का मेरे प्रति यही रवैया रहा तो इससे अच्छा मर जाना अच्छा है। हम हमारे न्यूज़ चैनल के माध्यम से स्थानीय शासन प्रशासन से गुहार लगाते हैं कि पीड़ित तुलसीराम के साथ हो रहे अन्याय एवं अत्याचार पर जल्द से जल्द प्रशासन को ध्यान दिया जाए। पीड़ित कि जल्द से जल्द मदद किया जाए।
प्रधानमंत्री आवाज जल्द से जल्द की निरस्त की जाए विवादित भूमि हैं उस पर प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत नहीं हो ता है ना तो जमीन की नपती हुई ना तो कोर्ट का फैसला दोनों के पक्ष में नहीं है इसलिए उस भूमि पर प्रधानमंत्री स्वीकृत आवास नहीं होता है फिर भी सीएमओ गलत ढंग से नियम व कानून हाथ में लेकर आवास की स्वीकृति क्यों दी जो भूमि विवादित होती है वहां पर कीसी प्रकार की सुविधा को शासन की योजना की लाभ नहीं ले सकता जमीन की अभी तक नपती नहीं हुई है जमीन कि नपती हो ने पर ही स्वीकृत होती है आरोपी के नाम इस प्रकार है राधेश्याम (श्यामलाल) पिता बगदीराम दर्जी, कलाबाई पति राधेश्याम (श्यामलाल) दर्जी, पुष्कर पिता राधेश्याम
संजय पिता राधेश्याम मुन्ना पिता राधेश्याम निवासी नगरी तहसील दलोदा जिला मंदसौर

पीड़ित तुलसीराम ने लगाई मीडिया के माध्यम से

पीड़ित को बहुत परेशानी आ रही है। पीड़ित का यह भी कहना है कि सर्वे नंबर 2767/1,2767/2,2767/3,2767/4 ने विवाद भूमि सिविल जज महोदय वर्ग 2के य हा प्रकरण प्रचलित हैं त था मुझ प्रार्थी को जिला जज महोदय मन्दसौर के प्र. क्र एम् सी ए/ 493/2018 द्वारा ओके सर्वे क्रमांक के संबंध में निषेधाज्ञा स्टे प्राप्त है पीड़ित दो चक्कर थाने जा चुका है लिखित थाना की आवेदन दे चुका है और पीड़ित ने मीडिया के माध्यम से यह भी श्रीमान से निवेदन है कि मेरी मदद की जाए और पीड़ित की जल्दी जल्दी मदद की जाए जाए। मैं बहुत परेशान हाल हूं जय गड्ढे खोदे गए अमान्य थाना प्रभारी से निवेदन है आरोपी द्वारा गड्ढे खोदे गए जुर्माने की कार्रवाई की जाए कोट स्टे अनुसार कारवाई की जाए जो आरोपी है उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जाए कोट की आदेश की पालन नहीं हो रहा है पालन किया जाए

आरोपी के खिलाफ अगर कानूनी कार्रवाई बनती है। तो कानूनी कार्रवाई की जावे।मंदसौर से

Leave a Reply