OPERATION BULE FREEDOM (C.L.A.W.)
यह वोल्ड रिकॉड इंडियन आर्मी के मेजर विवेक दवारा 2019में चालू किया गया,

डीजी न्यूज इंडिया
मन्दसौर से ब्यूरो चीफ
मंगल देव राठौर की खास रिपोर्ट
मो.+918305357955


यह वोल्ड रिकॉड इंडियन आर्मी के मेजर विवेक दवारा 2019में चालू किया गया, उस कड़ी को आगे बढ़ाते हुये अभी वर्तमान में शारीरिक दिब्यांगता (जो एक हाथ या पैर )और दृष्टिबाधित को लेकर ट्रैकिंग के लिये आगे लाये
जिसमे वोल्ड रिकॉड के लिये , जे.एस.पी .एल .फाउंडेशन ‘आशा द होप ‘ के विशेष शिक्षाका चंचला पटेल जो की एक पैर से दिब्यांग है ,उन्होंने इस कार्यक्रम में भाग लेकर पर्वत चढ़ का अपने आप को साबित किया किया दिब्यांग भी सब कुछ कर सकते है , जो की C.L.A.W. का भी यही उदेश्य है , चंचला का कहना है की
इंसान के शरीर के एक अंग कट जाने से इंसान के सोच को दिब्यांग नहीं बनाना है ,अपने अंदर छिपे हुनर और जज्बा पहचान कर आगे बढ़ना है ,
चंचला ने भारत के सबसे ऊंचे पर्वत सियाचिन जो की बर्फीली क्षेत्र मे भी ट्रेकिंग की और वातावरण का किसी प्रकार उन पर नुकसान नहीं पहुंचाया ओ अभी स्वस्थ रायगढ़ पहुंच गये ,
उन्होंने आर्मी टीम को धन्यवाद दिया और खासकर मेजर विवेक जो की क्लॉ का फाउण्डर है ,
मेजर अरुण ,आर्मी डाका जी ,
आर्मी मीन जी ,आर्मी प्रदीप ,आर्मी अतिनारायण ,
पुरे कैमरा मैंन ग्रुप ,और पुरे
सपोटिंग ग्रुप को भी धन्यवाद दिये जी की इन सब की सहायता से आगे बढ़ रहें है ,हमारे क्लॉ और पुरे दुनिया वाले को दिखा रहें
सकारात्मक सोच और मेहनथ से सब आगे बढ़ सकते है ,
‘मानमती आदर्श विद्यालय
गेजामोड़ा ,शिक्षकों द्वारा बुक के देख कर सम्मानित की, सियाचिन से चंचला वापस आने की खुशी में, सीमा दास ने मीठा खिलाकर वेलकम की

Leave a Reply