आमजन की सुरक्षा को देखते हुए कामधेनु सेना के राष्ट्रीय व प्रदेश पदाधिकारियो ने माननीय मुख्यमंत्री श्रीमान अशोकजी गहलोत से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा

मध्य प्रदेश से जिला जनपद ब्यूरो चीफ मंगल देव राठौर की खास रिपोर्ट मो.+918305357955


भादवा माह में होता प्रतिदिन 30 से 35 हजार श्रद्धालुओं का आगमन – कामधेनु सेना पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष – सैन
अधिक भीड़भाड़ व व्यस्त एरिया होने के कारण बेरिकेट्स व स्पीड ब्रेकर लगाकर आमजन की सुरक्षा में सहयोग करे सरकार – सैन
नागौर। जोधपुर रोड़ स्थित विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय (श्री कृष्ण गोपाल गो सेवा समिति) नागौर, के आगे भारी वाहनों का आवागमन रहता है व भादवा मेले में 9 लाख श्रद्वालुओं का आवागमन होता है। इसलिए बेरिकेट्स व स्पीड ब्रेकर लगाने हेतु मुख्यमंत्री के नाम से कामधेनु सेना संगठन के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रवण सैन, राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष अशोक राणेजा, जोधपुर जिलाध्यक्ष कालूराम प्रजापत, नागौर जिला कोषाध्यक्ष रमेश बिश्नोई, जोधपुर तहसील अध्यक्ष गजेन्द्र सैन, मुख्य व्यवस्थापक श्रवण बिश्नोई ने माननीय मुख्यमंत्री महोदय के जोधपुर आगमन पर मुख्यमंत्री श्री अशोकजी गहलोत को ज्ञापन सौंपा।
कामधेनु सेना के पुर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रवण सैन ने बताया कि गो चिकित्सालय में बीमार, पीड़ित गोवंश की अद्भुत चिकित्सा सेवा होती है, इस अद्भुत सेवा को देखने के लिए अन्य दिनो में भी प्रतिदिन 2 हजार से अधिक यात्रीगण व श्रद्वालु गण आते हैं और केवल भादवा माह में प्रतिदिन लगभग 30 से 35 हजार श्रद्धालुओं का आगमन होता है। भादवा महीने में लगभग 9 लाख यात्रियों का आगमन होता है, इन यात्रियों का आगमन शुरू हो चुका है यहां पर आमजन की सुरक्षा को लेकर बैरिकेट्स व स्पीड ब्रेकर नहीं होने पर कई बार ओवर स्पीड्स से सड़क पर दुघर्टनाएं होने के कारण जनहानि हो जाती है नागौर क्षेत्र के अन्य जगहों पर जैसे पेट्रोल पम्पों, स्कूलों तथा अन्य गौशालाओं के आगे बेरिकेट्स लगे हुए हैं, जिन जगहों पर बैरिकेट्स लगे हुए हैं उन जगहों की अपेक्षा विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय के आगे बहुत ज्यादा भीड़ होती है व प्रत्येक महिने में विशाल भागवत कथा का आयोजन होता है हजारों की संख्या में श्रृद्धालु गण कथा सुनने आते हैं। विशेष बात यह है कि विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय राष्ट्रीय राजमार्ग से 1 किलोमीटर अन्दर नगर परिषद के कार्य सीमा में आता हैं, सरकार द्वारा भी यहां पर कई सांकेतिक बोर्ड लगाया है कि ये व्यस्त एरिया है। इसी को ध्यान में रखते हुए कामधेनु सेना संगठन द्वारा राजस्थान की सभी 200 विधानसभा क्षेत्र से माननीय मुख्यमंत्री जी को ज्ञापन का अभियान चलाया है, जिनमें 33 जिलों के 125 से अधिक तहसील व उपतहसील में सम्बधित अधिकारियों को कामधेनु सेना के पदाधिकारियों द्वारा ज्ञापन दिया गया।

About mangaldevrathore36

View all posts by mangaldevrathore36 →

Leave a Reply