मंत्री श्री सारंग ने आर.ओ.वी. पर खुद गाड़ी चलाकर किया ट्रॉयल रन ट्रॉयल रन में आने वाली तकनीकी समस्याओं को दूर किया जायेगा

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने भोपाल शहर में सुभाष नगर रेल्वे क्रॉसिंग पर निर्माणाधीन रेल्वे ओव्हर ब्रिज पर खुद गाड़ी चलाकर ट्रॉयल रन किया। ब्रिज पर कई बार भारी वाहन, हल्के मोटरयान सहित टू-व्हीलर वाहनों की आवाजाही कर आ रही तकनीकी दिक्कतों को देखा गया।

लगातार 12 जनवरी तक होगा ट्रॉयल रन

मंत्री श्री सारंग ने कहा कि ट्रॉयल रन से यह सुनिश्चित किया जायेगा कि कहाँ हमें डिवाइडर की आवश्यकता है। मेट्रो और आरओबी एक साथ होने के कारण वाहनों की आवाजाही में कठिनाई की आशंका जताई जा रही थी। इसे पहले से दूर करने के उद्देश्य से ट्रॉयल रन किया जा रहा है। ट्रॉयल रन लगातार 12 जनवरी तक किया जायेगा। इस दौरान वाहन चालकों को आयी कठिनाइयों को दूर करने का प्रयास किया जायेगा।

ट्रॉयल रन में आयी परेशानियों को 23 जनवरी के पहले किया जायेगा दूर

मंत्री श्री सारंग ने कहा कि आवागमन और ट्रैफिक व्यवस्था को सुगम बनाने की दृष्टि से ट्रॉयल रन किया जा रहा है। श्री सारंग ने कहा कि ट्रॉयल रन के बाद आवश्यक परिवर्तन डायवर्सन, वॉल, रोड़, ट्रैफिक सिग्नल आदि पर विचार-विमर्श कर सुधार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि आगामी 12 से 23 जनवरी के बीच इन परिवर्तनों पर कार्य किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान 23 जनवरी को करेंगे लोकार्पित

मंत्री श्री सारंग ने बताया कि 23 जनवरी को सुभाष चन्द्र बोस की जयंती के दिन मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ओव्हर ब्रिज का लोकार्पण करेंगे। इससे नगर की लगभग 5 लाख जनता को सहूलियत मिलेगी। राशि 28 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित ओव्हर ब्रिज की लंबाई रिटर्न वॉल सहित 641.800 मीटर है। चौड़ाई 15 मीटर और रेल्वे पोर्शन 64 मीटर है। लोक निर्माण विभाग पोर्शन 318 मीटर और रिटर्न वॉल 259 मीटर है।

होंगे उपयुक्त तकनीकी सुधार

लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता श्री संजय खांडे ने बताया कि ट्रॉयल रन में मिक्स ट्रैफिक का आवागमन कर वास्तविकता का आकलन किया जा रहा है। यातायात के समय आने वाली व्यवहारिक कठिनाइयों को परीक्षण के बाद उपयुक्त तकनीकी सुधार करवाये जायेंगे।

Leave a Reply