अवैध उत्खनन माफियाओं पर वन विभाग के शनिचरा चौकी प्रभारी मेहरबान

चौकी प्रभारी की मिलीभगत से वन विभाग में धीरे-धीरे सक्रिय होने लगे माफिया

मुरैना—-मुरैना रेंज के अंतर्गत आने वाली शनिचरा चौकी प्रभारी की दबंगई इतनी चल रही है की चंबल से भरकर रेत ले जाने वाले ट्रैक्टरों पर प्राइवेट लड़कों से बसूलिया की जा रही है तथा वन विभाग में ट्रैक्टर पत्थर भरकर माफिया धीरे-धीरे सक्रिय होने लगे हैं जबकि पडावली वन विभाग में बरसों पहले हो रहे उत्खनन को बंद करने में शासन प्रशासन का लाखों करोड़ों रुपए खर्च हुआ था लेकिन धीरे-धीरे चौकी प्रभारी केशव शर्मा की मेहरबानी से फिर माफिया सक्रिय होने लगे हैं ताजा मामला कल 13 मई 2020 का है इसमें वन विभाग के चौकी प्रभारी शनिचरा को सूचना मिली कि वन विभाग में माफिया ट्रैक्टर में पत्थर भर रहे हैं तभी मौके पर टीम लेकर पहुंचे चौकी प्रभारी केशव शर्मा द्वारा कोई कार्रवाई न करते हुए ट्रैक्टर को मिली भगत कर आसानी से जाने दिया सूत्रों के मुताबिक यह ट्रैक्टर पढ़ावली निवासी जगदीश जैन उर्फ जग्गो का बताया गया है उक्त व्यक्ति द्वारा पूर्व में भी निरंतर वन अपराध करने पर कार्यवाही भी की गई है लेकिन यहां पर वर्तमान में पदस्थ डिप्टी रेंजर केशव शर्मा की मेहरबानी से कोई भी कार्यवाही नहीं की जा रही है जब कि यह मामला वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में होने के बावजूद भी किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है इस प्रकार माफियाओं के हौसले बुलंद होते हुए नजर आ रहे हैं तथा जो बन विभाग में अपराध होने की सूचना देता है उससे झगड़ा करने के लिए चौकी प्रभारी उसके घर तक पहुंच जाते हैं इससे स्पष्ट होता है कि चौकी प्रभारी शनिचरा केशव शर्मा को अवैध उत्खनन माफियाओं द्वारा खरीद लिया गया है शायद इसीलिए माफिया के लोग डिप्टी रेंजर केशव शर्मा की मिलीभगत से ही माफिया धड़ल्ले से दिनदहाड़े अवैध उत्खनन कर निकल रहे है आपको बता दें कि चौकी प्रभारी शनिचरा डिप्टी रेंजर केशव शर्मा के विरुद्ध लोकायुक्त में प्रकरण भी विचाराधीन है लेकिन फिर भी राजनीतिक पहुंच के कारण या वरिष्ठअधिकारियों से सांठगांठ कर शायद वरिष्ठ अधिकारियों का कमाऊ पूत बन कर डिप्टी रेंजर केशव शर्मा जिम्मेदार पद पर रखा गया है जबकि पूर्व में भी रंगे हाथों लोकायुक्त पुलिस द्वारा डिप्टी रेंजर के विरुद्ध कार्यवाही हो चुकी है जबकि जिले से बाहर डिप्टी रेंजर को भेजना चाहिए लेकिन यहां पर डिप्टी रेंजर केशव शर्मा को रेंज से बाहर तक नहीं भेजा गया है इससे स्पष्ट होता है कि राजनीतिक दबदबे के चलते डिप्टी रेंजर केशव शर्मा के हौसले बुलंद नजर आ रहे हैं तथा विभागीय अधिकारियों से सांठगांठ होने के कारण विभागीय अधिकारियों की कार्यवाही करने की तथा जिले से बाहर भेजने की हिम्मत तक नहीं होती है हालांकि वरिष्ठ अधिकारी जांच कर कार्रवाई करने की बात कह रहे हैं अब देखना यह है कि क्या वरिष्ठ अधिकारी भ्रष्ट डिप्टी रेंजर केशव शर्मा चौकी प्रभारी शनिचरा को हटाने की हिम्मत जुटा पाएंगे या मामले को ठंडे में बस्ते में डालकर इसी प्रकार टालमटोल करते रहेंगे। इनका कहना है कि,

हमारे द्वारा डिप्टी रेंजर से जानकारी ली गई थी तो बताया गया कि हम वहां पर पहुंचे तो माफिया ट्रैक्टर खाली कर भगा ले गए तथा पढ़ावली गांव में दरवाजे पर रखा हुआ है तब हमारे द्वारा डिप्टी रेंजर से कहा गया है कि पुलिस थाने में एफ आई आर दर्ज कराएं । एम. के.कुलश्रेष्ठ वन परि क्षेत्रा धिकरी वन परि क्षेत्र मुरैना इनका कहना है कि, हमारे द्वारा रेंजर को बता दिया गया है रेंजर जांच कर कार्यवाही करेंगे तथा हमारे पास स्टाफ कम होने के कारण शनिचरा चौकी प्रभारी को जिले से बाहर चालान पेश होने पर भेजा जाएगा। विजेंद्र झा वन मंडल अधिकारी सामान्य वन मंडल मुरैना

About अनिरुद्ध त्रिपाठी ग्वालियर

View all posts by अनिरुद्ध त्रिपाठी ग्वालियर →

Leave a Reply