मतदाता जागरूकता अभियान की बनायें सुनियोजित कार्य-योजना

 

राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री बसंत प्रताप सिंह ने कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पंचायत एवं नगरीय निकाय निर्वाचन-2022 के लिए मतदाता जागरूकता अभियान की सुनियोजित कार्य-योजना बनाकर उसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। मतदाता जागरूकता अभियान से संबंधित कराई गयी गतिविधियों की जानकारी आयोग को भेजें। विस्तृत कार्य-योजना आयोग द्वारा सभी जिलों को भेजी गयी है। इसी के आधार पर जिला स्तर की कार्य-योजना बनायें।

त्रि-स्तरीय पंचायत एवं नगरीय निकायआम निर्वाचन -2022

प्रचार-प्रसार के लिए लक्ष्य

श्री सिंह ने कहा है कि प्रचार-प्रसार के माध्यम से मतदान का प्रतिशत बढ़ाना, मतदान का महत्व समझाना तथा मतदाताओं को मताधिकार के लिए प्रेरित करना है। अभियान में मतदाताओं को मतदान की प्रक्रिया के बारे में जानकारी देना, महिला एवं युवा मतदाताओं को मतदान के लिये प्रोत्साहित करना, जिन मतदान केन्द्रों पर विगत निर्वाचन में मतदान का प्रतिशत कम रहा है, उन मतदान केन्द्रों पर मतदान का प्रतिशत बढ़ाये जाने के प्रयास करना, मतदाता सहायता केंद्रों की वार्ड अथवा मतदान केन्द्र स्तर पर स्थापना करना, संवदेनशील मतदान केन्द्रों में प्रशासन द्वारा की जा रही सुरक्षा व्यवस्थाओं की जानकारी देना, मतदाताओं को मतदान के मूल्य तथा लोकतंत्र में मतदाता की भूमिका के प्रति जागरूक करना, गर्भवती महिला, वरिष्ठ नागरिक एवं दिव्यांग मतदाताओं द्वारा सुगमता से मतदान किये जाने की प्रक्रिया से अवगत कराना और आयोग द्वारा किये गये नवाचारों एवं नियम निर्देशों में हुए संशोधनों से मतदाताओं एवं अभ्यर्थियों को अवगत कराना है।

Leave a Reply