मिलावट से मुक्ति अभियान में 396 मिलावटखोरों के विरुद्ध एफआईआर और 36 के विरुद्ध रासुका

नागरिकों को शुद्ध खाद्य पदार्थों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये 9 नवम्बर, 2020 से शुरू किये गये मिलावट से मुक्ति अभियान में अब तक 396 मिलावटखोरों के विरुद्ध एफआईआर और 36 के विरुद्ध रासुका के प्रकरण दर्ज किये गये हैं। अभियान में लिये गये जाँच नमूनों में से 23 हजार 952 नमूनों की रिपोर्ट प्रयोगशाला द्वारा जारी की गई।

जारी की गई जाँच रिपोर्ट में 23 हजार 952 नमूनों में से 1970 अमानक, 2064 मिथ्या छाप, 194 असुरक्षित, 175 अपद्रव्य और 19 हजार 346 नमूने मानक स्तर के पाये गये हैं। मिलावट पाये जाने पर 170 प्रतिष्ठान को सील किया गया और 105 प्रतिष्ठान के लायसेंस निलंबित किये गये।

अभियान में अब तक 19 करोड़ 34 लाख रुपये मूल्य की मिलावटी सामग्री को जब्त किया गया। मिलावट करने वालों से 3 करोड़ 32 लाख रुपये के अर्थ-दण्ड की वसूली की गई। अभियान में 21 हजार 435 लीगल नमूने लिये गये। एमएफटीएल से लिये गये सर्विलेंस नमूनों की संख्या 67 हजार 783, मैजिक बॉक्स के लिये सर्विलेंस नमूनों की एक लाख 21 हजार 985 और अन्य सर्विलेंस नमूनों की संख्या 5040 रही। मिलावट से मुक्ति अभियान में 44 हजार 519 निरीक्षण भी किये गये।

Leave a Reply