बीएचई कामगार ट्रेड यूनियन सीटू द्वारा पिपलानी स्थित भेक्टू-सीटू यूनियन कार्यालय पर कर्मचारी सम्मेलन का आयोजन

बीएचई कामगार ट्रेड यूनियन सीटू द्वारा पिपलानी स्थित भेक्टू-सीटू यूनियन कार्यालय पर कर्मचारी सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर सीटू के राष्ट्रीय महासचिव का. तपन सेन उपस्थित थे। सीटू यूनियन के मीडिया प्रभारी अतुल मालवीय के अनुसार कामरेड तपन सेन ने भेल कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज की परिस्थिति में भेल को बचाने के लिए व भेल कर्मचारियों के अधिकारों को बचाने के लिए सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन (सीटू) को प्रतिनिधि यूनियन चुनाव में विजय दिलाना आवश्यक है। केंद्र सरकार कूटनीतिक तरीके से पब्लिक सेक्टर्स कारखानों को पूंजीपतियों को सौंपना चाहती है। रिनेवेबल एनर्जी के नाम पर कोयले के पावर प्लांट लगाने पर रोक लगा चुकी है। और सोलर के पावर प्लांट के ऑर्डर विदेशी कम्पनियों को देकर धीरे धीरे भेल को बर्बादी के कगार पर लाना चाहती है।

यदि पब्लिकसेक्टर कारखाने नहीं बेचेंगे, तो स्थायी रोजगर भी नहीं बचेगा,75 वर्षों में संघर्ष करके जो कुछ हासिल किया है वो ये सरकार एक झटके में खत्म करना चाहती है। पब्लिक सेक्टर्स व पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों के अधिकारों की लड़ाई सीटू पूरी मजबूती के साथ लड़ रही है।
भेल कर्मचारियों को बोनस ना मिलने के विषय पर बोलते हुए तपन सेन ने कहा कि 2016 तक मैं भेल की जेसीएम में सेंट्रल लीडर के तौर पर बैठता था और कर्मचारियों को दो तरह के बोनस का अधिकार सीटू ने लड़कर दिलाया था,प्लांट परफॉर्मेंस बोनस जो कि उत्पादन के आधार पर व एसआईपी बोनस जो कि कम्पनी के प्रॉफिट के आधार पर निर्धारित किया जाता था।यह नियम इसी लिए बनाया गया था कि यदि भेल को प्रॉफिट ना भी हो तब भी उत्पादन के आधार पर एक बोनस दिया जा सके। लेकिन वर्तमान प्रतिनिधि यूनियने इस बात को मैनेजमेंट के समक्ष मजबूती के साथ रखने में नाकाम साबित हुईं,आज के इस कार्यक्रम में यूनियन के महामंत्री रंजीत सिंह, अध्यक्ष लोकेंद्र शेखावत, कोषाध्यक्ष शाहिद अली, वरिष्ठ सलाहकार दीपक गुप्ता, निशांत नंदा, विजेंद्र पाटिल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सादिक खान, समेत 1000 से अधिक भेल कर्मचारी उपस्थित थे।
आज के कार्यक्रम में एच एम एस के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद पटेल ने भी मंच पर आकर सीटू की सदस्यता ग्रहण की !!

About Moin Khan Bhopal MP

View all posts by Moin Khan Bhopal MP →

Leave a Reply