श्री नारायण नाणे ने यूएई को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित किया, एमएसएमई को नए अवसरों की खोज में सक्षम बनाने के लिए साथ मिलकर काम करने का आह्वान किया

केंद्रीय सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्री श्री नारायण राणे ने एमएसएमई राज्य मंत्री श्री बीपीएस वर्मा और मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ यूएई सरकार में उद्यमशीलता और एसएमई राज्य मंत्री डॉ. अहमद बेहलोल अल फलासी की अगुआई में वहां के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की।

wps2

श्री राणे ने कहा कि यूएई, भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है और हम ऐसी व्यवस्था विकसित करने के लिए मिलकर काम करना चाहते हैं जिससे एमएसएमई नए अवसरों को खोजने और अपने मौजूदा कारोबार को बढ़ाने में सक्षम हो सकें। उन्होंने यूएई को इन्फ्रास्ट्रक्चर, खाद्य प्रसंस्करण और ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में निवेश के लिए आमंत्रित किया है।

 

wps3

wps4

एएसएंडडीसी, एमएसएमई श्री शैलेष कुमार सिंह ने दोहराया कि दोनों देशों के एसएमई के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रक्रियाएं, ज्ञान, कौशल को साझा करके, प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के जरिए द्विपक्षीय व्यापार बढ़ाने की खासी संभावनाएं हैं।

जेएस, एमएसएमई सुश्री मर्सी एपाओ ने कहा कि भारत और यूएई के बीच बेहतरीन द्विपक्षीय संबंध हैं, जिनकी ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रूप से जड़ें खासी गहरी हैं और हम भविष्य में इन्हें और मजबूत बनाने के लिए तत्पर हैं। उन्होंने कहा कि सीईपीए ने दोनों देशों के बीच व्यापार और निवेश के लिए नए अवसर खोले हैं, जिससे एसएमई और स्टार्टअप्स को लाभ मिलेगा।

Leave a Reply