खेल आज के साथ – साथ भविष्य का बेहतर निर्माण भी करता है – चौरसिया

नलखेड़ा।हमारे देश मे प्रतिवर्ष 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है।आज ही के दिन हमारे देश के गौरव हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का जन्म हुआ था।मेजर ध्यानचंद ने अपनी फिटनेस,स्टेमिना और हॉकी से दुनिया को मंत्रमुग्ध कर दिया था।ये विचार शा कन्या उ मा विद्यालय नलखेड़ा के शिक्षक मुकेश चौरसिया ने व्यक्त किये। उन्होंने बताया कि मेजर ध्यानचंद में अपने खेल हॉकी के प्रति अद्वितीय क्षमताएं थी।उन्होंने अपने खेल के द्वारा भारत देश को एक अलग और खास मुकाम दिलाया।यदि हम नियमित कम से कम एक खेल खेले तो हम अधिक सक्रिय और स्वस्थ रह सकते है।खेल गतिविधियो में शामिल होना हमें बहुत से रोगों से सुरक्षित करने में मदद करता है।खेल हमारे लिए बहुत ही लाभदायक है क्यो कि वे हमें समयबद्धता,धैर्य,अनुशाशन,समूह में कार्य करना और लगन सिखाते है एवं देशभक्ति की भावना जागृत करते है।खेल व्यक्ति को शारीरिक रूप से तो स्वस्थ बनाता ही है साथ ही मानसिक रूप से भी स्वस्थ बनाने का काम करता है।खेल मनुष्य के आज को तो बेहतर बनाता ही है साथ हि उनके भविष्य का बेहतर निर्माण भी करता है।पिछले वर्ष इसी दिन भारत के प्रधानमंत्री श्री मोदी जी ने फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत की जिसके अंतर्गत लोगो को अधिक से अधिक शारीरिक कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया गया है ताकि वे अपने स्वास्थ्य को बेहतर बना सके और एक स्वस्थ देश का निर्माण कर सके।अधिक प्रसिद्ध खेल हस्तियों को रखने वाला देश कम समय मे बहुत आसानी से दुनियाभर में अपनी अलग पहचान बना सकता है।आज का ये दिन हमारे उन युवा खिलाड़ियों को बधाई देने का भी है जो निरन्तर दुनिया के मंच पर तिरंगे की शान को नई बुलंदी दे रहे है।अभी हाल ही में टोकियो में सम्पन्न ओलम्पिक 2021 में भारत के खिलाड़ियों ने उम्दा प्रदर्शन कर 1 स्वर्ण,2 रजत एवं 4 कांस्य पदक जीतकर भारत का परचम लहराया है।राष्ट्रीय खेल दिवस पर उन सभी खिलाड़ियों को हार्दिक बधाई एवं उनकी खेल प्रतिभा को नमन।

Leave a Reply