NASA के अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर धरती पर लूट रहा space X का क्रू ड्रेगन,

NASA के अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर धरती पर लूट रहा space X का क्रू ड्रेगन,फ्लोरिडा के तट पर होगी लैंडिंग
नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) और स्पेसएक्स (SpaceX) की टीम ने 2 अगस्त यानी रविवार को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) से NASA के अंतरिक्ष यात्रियों रॉबर्ट बेकन और डगलस हर्ले को धरती पर लाने की पूरी तैयारी कर ली है.

NASA ने शनिवार को कहा कि SpaceX ने रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले को अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से वापस बुलाने की तैयारी पूरी कर ली है. रविवार को दोपहर बाद ड्रैगन कैप्सूल से इन्हें फ्लोरिडा के पास मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की तैयारी है.
नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) और स्पेसएक्स (SpaceX) की टीम ने 2 अगस्त यानी रविवार को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) से NASA के अंतरिक्ष यात्रियों रॉबर्ट बेकन और डगलस हर्ले को धरती पर लाने की पूरी तैयारी कर ली है.

NASA ने शनिवार को कहा कि SpaceX ने रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले को अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से वापस बुलाने की तैयारी पूरी कर ली है. रविवार को दोपहर बाद ड्रैगन कैप्सूल से इन्हें फ्लोरिडा के पास मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की तैयारी है.
नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) और स्पेसएक्स (SpaceX) की टीम ने 2 अगस्त यानी रविवार को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) से NASA के अंतरिक्ष यात्रियों रॉबर्ट बेकन और डगलस हर्ले को धरती पर लाने की पूरी तैयारी कर ली है.

NASA ने शनिवार को कहा कि SpaceX ने रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले को अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से वापस बुलाने की तैयारी पूरी कर ली है. रविवार को दोपहर बाद ड्रैगन कैप्सूल से इन्हें फ्लोरिडा के पास मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की तैयारी है.
साथ ही NASA ने ये भी बताया कि उनकी टीम इसके मद्देनजर इस्नाईस तूफान पर भी करीब से नजर रखी रही है, जिसके फ्लोरिडा के पूर्वी तट से टकराने की आशंका है.ताकि लैंडिंग में इससे कोई परेशानी न आए.

31 मई को NASA के अंतरिक्ष यात्री पहुंचे थे ISS

मालूम हो कि 31 मई को स्पेस एक्स (SpaceX) का क्रू ड्रैगन (Demo-2) अंतरिक्ष यान NASA के अंतरिक्ष यात्रियों रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले को लेकर सफलतापूर्वक अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station) पहुंचा था. इसे अमेरिकी अंतरिक्ष कार्यक्रम में एक नए युग की शुरुआत माना जा रहा है.

SpaceX का चालक दल के साथ यह पहला मिशन

यह SpaceX का चालक दल के साथ यह पहला मिशन है. इसके अलावा यह, अमेरिकी सरकार द्वारा 2011 में अंतरिक्ष शटल कार्यक्रम को रिटायर किए जाने के बाद चालक दल के साथ अमेरिका का भी पहला लॉन्च है. NASA के SpaceX डेमो-2 के रूप में जाना जाने वाला यह मिशन एक एंड टू एंड फ्लाइट है, जिसका उद्देश्य SpaceX की चालक दल को ढोने वाली प्रणाली को वैरिफाई करना है, जिसमें लॉन्च, इन-ऑर्बिट, डॉकिंग और लैंडिंग ऑपरेशन शामिल हैं.

यह था मिशन

इस दौरान बेनकेन और हर्ले ने SpaceX मिशन कंट्रोल के साथ इस बात को सत्यापित करने के लिए काम किया कि अंतरिक्षयान उम्मीद के मुताबिक पर्यावरणीय नियंत्रण प्रणाली, डिस्प्ले और नियंत्रण प्रणाली का परीक्षण करने और मूवमेंट करने और अन्य चीजें सही तरीके से करने में सक्षम है.

About नवरत्न गुप्त जिला संवाददाता महराजगंज

पत्रकार
View all posts by नवरत्न गुप्त जिला संवाददाता महराजगंज →

Leave a Reply