नेशनल इंटरनेट एक्‍सचेंज ऑफ इंडिया ने उत्‍तर प्रदेश में लॉन्‍च किए 7 नए इंटरनेट एक्‍सचेंज

केंद्रीय राज्य मंत्रीइलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकीकौशल विकास और उद्यमिताभारत सरकार की मुख्य घोषणाएं:—

  • “आज हम 2021 में हैं। और अगर हम रिपोर्ट कार्ड बनाएं, तो टेक्नोलॉजी के द्वारा लोगों के जीवन में  बदलाव लाने का जो हमारा लक्ष्य हैं, उसमें हम बहुत आगे बढ़े हैं।”
  • “पिछले एक साल में भारत में रिकॉर्ड एफडीआई आया है। अब हर महीने हम 2 यूनिकॉर्न खड़ा कर रहे हैं। भारत को दुनिया में सबसे तेज़ी से बढ़ता हुआ स्टार्टअप इकोसिस्टम बना रहे हैं।”
  • “हम यहां छोटा बेंगलुरु नहीं, बड़ा आगरा बनाएंगे। डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाएंगे।”
  • “हाइवेज़ बनना ज़रूरी है। लेकिन यह जो आई-वेज़ है, इंटरनेट का जो इंफ्रास्ट्रक्चर हैं, उसके कारण हम यह इंटरनेट एक्सचेंज का शुभारंभ कर रहे हैं।”

 

डिजिटल यूपी को मिली रफ्तारअब सबसे तेज दौड़ने को उत्तर प्रदेश तैयार

  • नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (निक्सी) ने लॉन्च किए उत्तर प्रदेश में 7 नए इंटरनेट एक्सचेंज
  • इंटरनेट एक्सचेंज को प्रयागराज, गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, मेरठ, कानपुर और आगरा में एक साथ किया गया लॉन्च

 

देश के माननीय राज्य मंत्री, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास और उद्यमिता, भारत सरकार श्री राजीव चंद्रशेखर के साथ एसपी सिंह बघेल माननीय राज्य मंत्री (कानून और न्याय) और अनिल कुमार जैन सीईओ, NIXI ने उत्तर प्रदेश के कई शहरों में 7 नए इंटरनेट एक्सचेंज नोड्स का उद्घाटन किया। मुख्य कार्यक्रम आगरा में गुरुवार 23 दिसंबर 2021 को सुबह 11 बजे आयोजित किया गया। भारत में NIXI के इन नए इंटरनेट एक्सचेंजों के उद्घाटन से उत्तर प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों में इंटरनेट और ब्रॉडबैंड सेवाओं की गुणवत्ता को बढ़ाने और सुधारने में मदद मिलेगी, साथ ही उनके द्वारा प्रदान किया गया इंटरनेट लोगों के जीवन में बदलाव लाएगा।

इंटरनेट एक्सचेंज को प्रयागराज, गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, मेरठ, कानपुर और आगरा में एक साथ लॉन्च किया गया। इससे पूरे उत्तर प्रदेश में अब 8 इंटरनेट एक्सचेंज हो जाएंगे।

 

 

उत्तर प्रदेश के “डिजिटल आत्मनिर्भर” होने से लोगों को हाई स्पीड इंटरनेट सेवाएं कम दामों पर मिलेगी। साथ ही राज्य में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। ‘निक्सी’ निकट भविष्य में टियर-2 और टियर-3 शहरों में भी इस तरह के कई इंटरनेट एक्सचेंज लॉन्च करने की योजना पर काम कर रहा है।

लॉन्चिंग कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राजीव चंद्रशेखर, “माननीय राज्य मंत्री, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास और उद्यमिता, भारत सरकार” ने कहा,”ये सिर्फ डबल इंजन की सरकार नहीं, बल्कि डबल डिजिटल इंजन की सरकार भी है, जो देश और प्रदेश के विकास को एक ऐतिहासिक और तेज गति दे रही है। अब दुनिया उत्तर प्रदेश को एक बड़े वैश्विक हब और निवेश के पसंदीदा स्थल के रूप में देख रही है।

उन्होंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश पूरे देश में सबसे तेज गति से डिजिटल हब बनने की ओर भी अग्रसर हो रहा है। ये डिजिटल इंडिया की ताकत ही थी कि आज देश 135 करोड़ भारतीयों को वैक्सीन की डोज देने का आकड़ा पार कर चुका है, जिससे कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में देश को जीत मिली है। निक्सी के सहयोग से आज प्रयागराज, गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, मेरठ, कानपुर और आगरा में एक साथ 7 इंटरनेट एक्सचेंज लॉन्च हो रहे हैं।

श्री सत्य पाल सिंह बघेल, माननीय राज्य मंत्री, कानून और न्याय, भारत सरकार ने मुख्य अतिथि से आग्रह करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश देश में सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य है। ऐसे में उत्तर प्रदेश जितना मजबूत होगा, देश उतना ही मजबूत होता चला जाएगा। उन्होंने कहा कि ये इंटरनेट क्रांति की ही ताकत है कि कोरोना काल में जब एक पल को लगा कि सब कुछ थम जाएगा, तब इंटरनेट ने आम लोगों के जीवन को रफ्तार दी और सभी काम बिना रुके चलने लगे।

उन्होंने कहा कि आगरावासियों का सपना है कि हमारा आगरा शहर आईटी हब बेंगलुरु और हैदराबाद की तरह एक नया आईटी हब बने। प्रदेश की युवा शक्ति में टैलेंट की भरमार है। हमारे पास वो सब चीज है, जो देश को वैश्विक और आईटी हब बना सकती है। आगरा में आईटी पार्क होना चाहिए। क्यूंकि, जब आप उत्तर प्रदेश में ऐसे अभिनव प्रयोग करेंगे, तो राज्य के युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर मिलेंगे और डिजिटल इकोनॉमी को भी बूस्ट मिलेगा।

इसका जवाब देते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री श्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि “आज हम 2021 में हैं। और अगर हम रिपोर्ट कार्ड बनाएं, तो टेक्नोलॉजी के द्वारा लोगों के जीवन में  बदलाव लाने का जो हमारा लक्ष्य हैं, उसमें हम बहुत आगे बढ़े हैं। पिछले एक साल में भारत में रिकॉर्ड एफडीआई आया है। अब हर महीने हम 2 यूनिकॉर्न खड़ा कर रहे हैं। भारत को दुनिया में सबसे तेज़ी से बढ़ता हुआ स्टार्टअप इकोसिस्टम बना रहे हैं। हम यहां छोटा बैंगलोर नहीं, बड़ा आगरा बनाएंगे। डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाएंगे। हाइवेज़ बनना ज़रूरी है। लेकिन यह जो आई-वेज़ है, इंटरनेट का जो इंफ्रास्ट्रक्चर हैं, उसके कारण हम यह इंटरनेट एक्सचेंज का शुभारंभ कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इससे पूरे उत्तर प्रदेश में सिर्फ 1 इंटरनेट एक्सचेंज था, जो नोएडा में था। आज 7 नए इंटरनेट एक्सचेंज लॉन्च होने के बाद अब उत्तर प्रदेश में कुल 8 इंटरनेट एक्सचेंज हो जाएंगे। इससे डिजिटल इकोनॉमी को बूस्ट मिलेगा। कोरोना काल जब लोगों के सामने घर में ही रहने और बाहर निकलने की बाध्यता रहती है…तो ऐसे में ऑनलाइन शिक्षा प्रदेश के कोने-कोने तक पहुंचाकर देश के भविष्य का निर्माण कार्य आज हो रहा है। किसान साथी आज सीधे ऑनलाइन कृषि मंडी से जुड़कर सरकारी सेवाओं का सीधा लाभ ले पा रहे हैं।

सही मायनों में कहें तो हर गरीब, जरूरतमंद और देश में अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को आज सरकारी योजनाओं का सीधा लाभ मिल रहा है, जिसका सपना दूरदर्शी विचारों के धनी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने भी देखा था। नए इंटरनेट एक्सचेंज बनने से अब राज्य सरकार, स्टूडेंट्स, स्टार्टअप्स, इंटरप्रिन्योर, किसानों, व्यापारियों, बैंकों और ग्राहक सेवा केंद्रों में काम की रफ्तार बढ़ेगी। देश में ‘डिजिटल इंडिया’ के सपनों को अब ‘डिजिटल यूपी’ से रफ्तार मिली है।

अब पीएम मोदी के सपनों को साकार करने की दिशा में यूपी अब पूरे देश में सबसे तेज गति से आगे बढ़ रहा है। निक्सी के इन नए इंटरनेट एक्सचेंजों के उद्घाटन से उत्तर प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों में इंटरनेट और ब्रॉडबैंड सेवाओं की न सिर्फ गुणवत्ता को बढ़ाने और सुधारने में मदद मिलेगी, बल्कि आम लोगों को भी सस्ते दामों पर हाई स्पीड डेटा उपलब्ध होगा।

एनआईएक्सआई के बारे में

नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (निक्सी) एक गैर-लाभकारी संगठन है जो वर्ष 2003 से निम्नलिखित कार्यों के ज़रिए भारत के नागरिकों तक इंटरनेट टैक्नोलॉजी पहुंचाने का काम कर रहा है: –

 

  1. इंटरनेट एक्सचेंज जिनके माध्यम से आईएसपी और आईएसपी व सीडीएन के बीच इंटरनेट डेटा का एक्सचेंज होता है

ii) भारत के लिए .IN कंट्री कोड डोमेन और .भारत आईडीएन डोमेन की बिक्री, प्रबंधन और संचालन

iii) एपीएनआईसी, ऑस्ट्रेलिया द्वारा अधिकृत इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपीवी4/आईपीवी6) की बिक्री, प्रबंधन और संचालन

 

RKJ/M

 

Leave a Reply