सद्भभाव की अनूठी मिशाल है रामजी बाबा मेला – डाॅ सीतासरन शर्मा।

अमित बनवारी/नर्मदापुरम/ संत शिरोमणी श्रीरामजीबाबा और गोरीशाह बाबा की याद में लगने वाला यह मेला सद्भाव की अनूठी मिशाल है। यह बात विधायक डॉ सीतासरन शर्मा ने रामजी बाबा मेला का फीता काटकर शुभारंभ करते हुए कही। उन्होंने कहा कि शहर का नाम नर्मदापुरम नाम होने के बाद यह पहला मेला है। शहर में हर्ष का माहौल व्याप्त है। हम सब सद्भाव के साथ रहें यह मेला हमें यही संदेश देता है। उन्होंने मेला के सफल आयोजन की शुभकामनाएं दी। इस मौके पर रामजी बाबा समाधि के महंत वृंदावन दास महंत, शहरकाजी अस्फाक अली, जनपद अध्यक्ष श्रीमती संगीता सौलंकी, मेला प्रभारी एडीएम मनोज ठाकुर, पियूष शर्मा, राजेश तिवारी, स्मारिका पटेल, मनोहर बड़ानी, नपा के कार्यपालन यंत्री आरसी शुक्ला, प्रशांत जैन, शिवानदं सोनी, इंजिनियर विष्णु यादव सहित नपा के अधिकारी कर्मचारी शामिल रहे। महंत वृंदावन दास ने रामजी बाबा के जीवन वृत पर प्रकाश डाला, इसके साथ ही मेला प्रभारी श्री ठाकुर ने मेला के दौरान व्यवस्थाओं की जानकारी देते हुए सभी से मेला के सफल आयोजन में सहयोग की अपेक्षा की। इस अवसर पर अनेक पूर्व पार्षद व शहर के गणमान्य नागरिक, मेला में आए व्यापारी शामिल रहे। संचालन आरती शर्मा और प्रदीप मिश्रा ने किया। मेला के शुभारंभ से पूर्व सुबह के समय रामजीबाबा समाधि से सद्भाव की चादर यात्रा निकाली गई जो गाजे बाजे के साथ शहर के प्रमुख मार्ग से ग्वालटोली स्थित गोरीशाह दाता की मजार पर श्रद्धाभाव के साथ अर्पित की गई। इस दौरान शहर के अनेक लोग उत्साह से शामिल रहे।

Leave a Reply