ऐसे ही नहीं बनता कोई डॉ सीतासरन शर्मा जी
दशकों का संघर्ष अनथक तपस्या त्याग और परिश्रम की पराकाष्ठा होती है तब नियति गढती है
डॉ सीतासरन शर्मा जी

ऐसे ही नहीं बनता कोई डॉ सीतासरन शर्मा जी
दशकों का संघर्ष अनथक तपस्या त्याग और परिश्रम की पराकाष्ठा होती है तब नियति गढती है
डॉ सीतासरन शर्मा जी

इटारसी होशंगाबाद क्षेत्र की तस्वीर बदलने के लिए जितने प्रयास इन्होंने किए हैं कोई और नहीं कर सकता
ऐसे व्यक्तित्व विरले ही होते हैं…
क्षेत्र की जनता के साथ हर सुख दुख में कंधे से कंधा मिलाकर चलना एवं अपराधियों के लिए हाथ में सुदर्शन चक्र लेकर चलने वाले ऐसे जननायक को मेरा प्रणाम

सत्ता और राजनीति की दुर्गम पथरीली राहों से रास्ता बनाकर अपनी जनता जनार्दन के स्वर्णिम भविष्य के लिए हर लड़ाई लड़ने को संकल्पित पथिक का नाम है डॉ सीतासरन शर्मा जी

सरल सहज व्यक्तित्व के धनी
हर विषय पर मजबूत पकड़ अपनी बातों को शानदार अंदाज में रखना ऐसी अनेकों खूबियां इन जननायक के अंदर समाहित है

इटारसी समेत पूरे नर्मदापुरम को एक अलग पहचान दिलाने वाले जननायक है
डॉ सीतासरन शर्मा जी

Leave a Reply