पर्यावरण मंत्री की अध्यक्षता में राज्य-स्तरीय पर्यावरण परिषद गठित

भोपाल। राज्य शासन ने आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश-2023 के संकल्प के अनुरूप राज्य-स्तरीय पर्यावरण परिषद का गठन किया है। पर्यावरण मंत्री श्री Hardeepsingh Dangकी अध्यक्षता में गठित परिषद में उपाध्यक्ष प्रमुख सचिव पर्यावरण होंगे। परिषद प्रदेश के पर्यावरण और प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण की नवीन परियोजनाओं के निर्माण के लिये रणनीतिक सुझाव, मार्गदर्शन, परामर्श और नवाचार को प्रोत्साहित करेगी। परिषद पर्यावरण संरक्षण, प्रदूषण नियंत्रण और प्राकृतिक सम्पदा के संवहनीय उपयोग के लिये किये जा रहे प्रयासों और विभिन्न विभागों द्वारा पर्यावरण से संबंधित सतत विकास लक्ष्य के कार्यों की भी समीक्षा करेगी।



पर्यावरण विभाग के अंतर्गत गठित परिषद के सदस्यों में महानिदेशक पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन एप्को, अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव वन, लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, जल-संसाधन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, किसान-कल्याण तथा कृषि विकास, उच्च शिक्षा और नगरीय विकास एवं आवास विभाग को शामिल किया गया है। साथ ही प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पंचायत और ग्रामीण विकास, योजना आर्थिक और सांख्यिकी, अध्यक्ष मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, सदस्य सचिव मध्यप्रदेश राज्य जैव-विविधता बोर्ड, राज्य वेटलैण्ड अथॉरिटी एवं वाइल्ड लाइफ बोर्ड श्री अभिलाष खाण्डेकर, अधिवक्ता केन्द्रीय सरकार पर्यावरण मामले श्री ओमशंकर श्रीवास्तव, शिवगंगा अभियान झाबुआ के श्री महेश शर्मा, सेवानिवृत्त पीसीसीएफ श्री रमेश दवे, संचालक पीएआईआरवीआई श्री अजय झा, सेंटर फॉर रूरल डेव्हलपमेंट एण्ड टेक्नालॉजी आईआईटी दिल्ली के डॉ. विवेक कुमार और संचालक सेंटर फॉर पॉलिसी स्टडी डॉ. जे.के. बजाज शामिल हैं। कार्यपालन संचालक पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन परिषद के सदस्य सचिव होंगे। अशासकीय सदस्यों का कार्यकाल 3 वर्ष का होगा।

Leave a Reply