बालाघाट जिले से पीएम स्वनिधि योजना के लाभार्थियों को ऋण वितरण एवं “स्वनिधि संवाद” का शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कन्या पूजन के उपरांत दीप प्रज्जवलन कर बालाघाट जिले से पीएम स्वनिधि योजना के लाभार्थियों को ऋण वितरण एवं “स्वनिधि संवाद” का शुभारंभ किया।

संवाद में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार का लक्ष्य है समाज के हर वर्ग का कल्याण। जितने भी हमारे छोटे-छोटे व्यवसायी हैं कोरोना काल में जिनका काम धंधा ठप्प हो गया था। प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi जी ने ऐसे लोगों के लिए योजना बनाई, पीएम स्वनिधि योजना।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पीएम स्वनिधि योजना के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन है।

लगभग हम साढ़े तीन लाख लोगों को ये ऋण दिला चुके हैं। जो रह गए हैं वे चिंता ना करें, आगे भी सहयोेग किया जाएगा। अगर ₹10 हजार आपने वापस किए तो आपको ₹20 हजार दिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार सबकी है, लेकिन जो सबसे पीछे और नीचे है सबसे पहले उनकी है। देश और प्रदेश का सशक्तिकरण तब नहीं हो सकता, जब महिला सशक्त नहीं होगी। पहली चीज है रोजगार,हमारी बहनें अलग-अलग रोजगार से जुड़ रही हैं उनको ये सहायता देना जारी रखेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi जी के नेतृत्व में एक वैभवशाली,गौरवशाली,शक्तिशाली,संपन्न भारत का सपना पूरा हो रहा है। देश हर ओर विकास कर रहा है। मेरा भी मानना है विकास का प्रकाश हर ओर पहुंचना चाहिए। समावेशी विकास,सबका साथ सबका विकास।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने तय किया है शहर हो या गांव हो, जो कच्चे घरों में रहते हैं गरीब हैं उन सबको 2024 तक पक्का मकान बनाने के लिए पैसे दे दिए जाएंगे, लगातार ये अभियान चलेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 8 तारीख को 5 लाख बहनों को उज्जवला रसोई गैस कनेक्शन दिए जाएंगे। बुनियादी जरूरतें पूरी हो ये प्राथमिकता है। बालाघाट के लिए ₹3 सौ करोड़ से ज्यादा की हमने योजना बनाई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि #COVID19 की तीसरी लहर रोकना है। उसके दो ही तरीके हैं हम कोविड संक्रमण के अनुरुप व्यवहार करें और दूसरा टीकाकरण। दुनिया के सभी साइंटिस्ट एक ही बात बताते हैं टीकाकरण के बाद कोरोना होगा नहीं, होगा तो उसका असर ज्यादा नहीं होगा।

Leave a Reply