सुरक्षा में सबसे अहम भूमिका निभाती है “तीसरी आँख”(सीसीटीवी कैमरे), जिससे अपराधी व असामाजिक खाते है ख़ौफ :

सुरक्षा में सबसे अहम भूमिका निभाती है “तीसरी आँख”(सीसीटीवी कैमरे), जिससे अपराधी व असामाजिकखाते है ख़ौफ : डीआईजी उपभोक्ताओं, ग्राहकों, संस्थान व आमजन की सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए डीआईजी श्री इरशाद वली द्वारा शहर में संचालित समस्त बैंक व ब्रांच मैनेजरों/संचालकों के साथ पुलिस कंट्रोल रूम में परिचर्चा बैठक की गई, जिससे करीब 150-160 मैनेजर मौजूद रहे।

डीआईजी श्री इरशाद वली ने बैठक को संबोधित करते हुए बताया कि भोपाल पुलिस द्वारा “भोपाल आई” के नाम से एक कैम्पेन चालू किया जा रहा है, जिसके लिए विगत दिनों से लगातार विभिन्न संगठनों व व्यापारियों के साथ बैठक कर द्विपक्षीय संवाद किया जा रहा है जिससे शहर में सुरक्षा व्यवस्था और बेहतर बनाया जा सके। शहर में लगे हुए सीसीटीवी कैमरों को आईपी एड्रेस के माध्यम से भोपाल पुलिस कंट्रोल रूम से जोड़ा जायेगा जिससे आपराधिक गतिविधियों व नजर रखने के साथ साथ फीडबैक भी मिलता रहेगा। इसलिए सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए अच्छी गुणवत्ता के सीसीटीवी कैमरे लगवाएं, इमरजेंसी अलार्म, अग्निशमन यंत्र एवं सुरक्षा गार्ड रखने, कर्मचारियों का चरित्र सत्यापन, वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था करे, साथ ही ग्राहकों/आमजन के साथ ठगी व धोखाधड़ी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए समय समय पर सेमिनार आयोजित कर ग्राहकों व आमजन को जागरूक करें।

बैठक में मैनेजरों के विचार व सुझाव

जाने गए, जिन्होंने पुलिस की पहल की काफी सराहना की एवं सुरक्षा के सभी इंतेजाम सुनिश्चित करने व पुलिस का सहयोग करने हेतु आश्वासन दिया।

एएसपी श्री निश्छल झारिया व संदेश जैन ने भोपाल पुलिस की ओर से महत्वपूर्ण बिंदुओं व सुझावों पर विस्तृत चर्चा कर अधिकारियों व आपातकालीन नम्बर साझा किए।

,

Leave a Reply