प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना/आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत 23 सितम्बर, 2018 को देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी थी

केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री श्री नित्यानंद राय ने आज नई दिल्ली में प्रत्येक केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के अंतिम 10 कर्मियों को आयुष्मान सीएपीएफ़ कार्ड वितरित किए। इस अवसर पर सभी केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के महानिदेशक, केन्द्रीय गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी और सशस्त्र पुलिस बलों के जवान उपस्थित थे।

इस अवसर पर अपने संबोधन में केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना/आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत 23 सितम्बर, 2018 को देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी थी। तत्‍पश्‍चात केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों के सभी कार्मिकों एवं उनके परिजनों के लिए इस योजना का विधिवत उद्घाटन ग्रुप केन्द्र, केरिपुबल, गुवाहाटी (असम) में गत वर्ष 23 जनवरी, 2021 को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की 125वीं जयंती के ऐतिहासिक अवसर पर केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह द्वारा किया गया था। इस योजना के तहत 35 लाख सीएपीएफ कार्मिकों एवं उनके परिवारों को रिकॉर्ड समय में आयुष्‍मान सीएपीएफ कार्ड वितरित किया गया है।

 

केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि आयुष्मान कार्डों के वितरण का शुभारंभ 02 नवम्बर,2021 के अवसर पर केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह द्वारा किया गया और 31 दिसम्बर, 2021 तक लगभग सभी कार्डों को बलों के कार्मिकों एवम उनके परिवार वालों को वितरित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि हमारे जवानों एवं उनके परिवारों के स्वास्थ्य का प्रबंध और कल्याण सुनिश्चित करना मोदी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि केन्‍द्रीय सशस्‍त्र पुलिस बल सीमा सुरक्षा, आंतरिक सुरक्षा, आतंकवाद, नक्सलवाद, उग्रवाद की समस्या से निपटने, राज्यों में विधि व्यवस्था एवं चुनाव में पूरा सहयोग करते हैं।

श्री नित्यानंद राय ने कहा कि पहले परामर्श एवं जांच केवल बलों के अस्पतालों या अन्य सरकारी अस्पतालों या सीजीएचएस के पैनल में शामिल अस्पतालों में ही उपलब्ध थी। लेकिन अब इस योजना के तहत आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई के सूचीबद्ध लगभग 24 हजार अस्पतालों में चिकित्सा की सुविधा कैशलेस आधार पर उपलब्ध होगी और इस योजना में होने वाले खर्च की कोई सीमा नहीं रखी गयी है। विभिन्न बलों के कार्मिकों के परिजन जो देश के सुदूर क्षेत्रों में रहते हैं, उनके लिए इलाज करवाना अब काफी आसान हो जायेगा। श्री राय ने कहा कि यह योजना हमारे सशस्त्र पुलिस बलों के कार्मिकों एवं उनके परिवार के सदस्यों के स्वस्थ एवं दीर्घायु होने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।

श्री नित्यानंद राय ने कहा कि सीएपीएफ कर्मी और उनके परिवार के सदस्‍य अब सीजीएचएस या आयुष्‍मान भारत पीएम-जय के तहत सूचीबद्ध सभी अस्‍पतालों में कैशलेस, इन-पेशेन्‍ट एवं आउट-पेशेन्‍ट स्वास्‍थ्‍य सुविधाओं का लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं। आयुष्‍मान सीएपीएफ का अखिल भारत रोलआउट 31 मार्च 2022 तक पूरा करने की योजना है। यह योजना केन्द्रीय गृह मंत्रालय तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण की एक संयुक्त पहल है।

सीएपीएफ लाभार्थियों को निर्बाध सेवाएं सुलभ कराने के लिए एन.एच.ए. ने एक विशेष टोल फ्री हेल्पलाइन नम्बर 14588, एक ऑनलाईन शिकायत प्रबंधन प्रणाली और धोखाधडी का पता लगाने एवं रोकथाम के लिए एक सख़्त नियंत्रण व्यवस्था के साथ उपयुक्त तंत्र तैयार किया है।

केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में और केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह के दिशानिर्देशों के अंतर्गत केन्द्र सरकार सीएपीएफ के समस्त जवानों की बेहतरी, चाहे उनके और उनके परिवारजनों के स्वास्थ्य से सम्बंधित हो या उनके लिए आवास व्यवस्था से जुड़ी हो, के लिए प्रतिबद्ध है और लगातार इस दिशा में प्रयासरत है।

केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री ने इस अवसर पर केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों के सभी महानिदेशकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने इस विशाल स्वास्थ्य योजना के तहत अपने विभागों में पूरी ईमानदारी व निष्ठा भाव से तय समयसीमा के अन्दर निर्धारित लक्ष्यानुरूप“आयुष्मान सीएपीएफ कार्ड”लाभार्थियों को संवितरित करवाने के इस अत्यंत चुनौतीपूर्ण कार्य को संपन्न कराने में अहम सहयोग प्रदान किया है।

Leave a Reply