प्रधानमंत्री ने वित्त मंत्री और उनकी टीम को ‘पीपुल फ्रेंडली और प्रोग्रेसिव बजट’ के लिए बधाई दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि ये बजट 100 साल की भयंकर आपदा के बीच, विकास का नया विश्वास लेकर आया है। श्री मोदी ने कहा, “ये बजट, अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के साथ ही सामान्य मानवी के लिए, अनेक नए अवसर बनाएगा।”

लोकसभा में केंद्रीय बजट पेश किए जाने के बाद अपनी टिप्पणी में प्रधानमंत्री ने कहा कि ये बजट मोर इन्फ्रास्ट्रक्चर, मोर इनवेस्टमेंट, मोर ग्रोथ और मोर जॉब्स की नई संभावनाओं से भरा हुआ है|  उन्होंने कहा कि इससे ग्रीन जॉब्स का भी क्षेत्र और खुलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह बजट न केवल समसामयिक समस्याओं का समाधान करता है बल्कि युवाओं के उज्ज्वल भविष्य को भी सुनिश्चित करता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों के लिए ड्रोन, वंदे भारत रेलगाड़ियां, डिजिटल मुद्रा, 5-जी सेवाएं, राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य ईकोसिस्टम जैसे कदमों के माध्यम से जीवन के हर क्षेत्र में आधुनिकता और प्रौद्योगिकी की खोज से हमारे युवाओं, मध्यम वर्ग, गरीबों, दलित और पिछड़ा वर्ग को अत्यधिक लाभ होगा।

प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि इस बजट का एक महत्वपूर्ण पहलू है- गरीब का कल्याण। हर गरीब के पास पक्का घर हो, नल से जल आता हो, उसके पास शौचालय हो, गैस की सुविधा हो, इन सभी पर विशेष ध्यान दिया गया है। इसके साथ ही आधुनिक इंटरनेट कनेक्टिविटी पर भी उतना ही जोर है।

प्रधानमंत्री ने उल्लेख किया कि हिमाचल, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर, नॉर्थ ईस्ट, ऐसे क्षेत्रों के लिए पहली बार देश में पर्वतमाला योजना शुरू की जा रही है। उन्होंने कहा कि ये योजना पहाड़ों पर ट्रांसपोर्टेशन की आधुनिक व्यवस्था का निर्माण करेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के कोटि-कोटि जनों की आस्था, मां गंगा की सफाई के साथ-साथ किसानों के कल्याण के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है। उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, इन पांच राज्यों में गंगा किनारे, नैचुरल फॉर्मिंग को प्रोत्साहन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह किसानों के कल्याण के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है और इससे गंगा को रसायन मुक्त बनाने में भी मदद मिलेगी।

बजट के प्रावधानों का उद्देश्य कृषि को आकर्षक और नए अवसरों से परिपूर्ण बनाना है। नए कृषि स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष कोष और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए पैकेज जैसे उपायों से किसानों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि एमएसपी खरीद के जरिए 2.25 लाख करोड़ रुपये से अधिक किसानों के खाते में ट्रांसफर किए जा रहे हैं.

श्री मोदी ने कहा कि इस बजट में क्रेडिट गारंटी में रिकॉर्ड वृद्धि के साथ ही कई अन्य योजनाओं का ऐलान किया गया है। डिफेंस के कैपिटल बजट का 68 परसेंट डोमेस्टिक इंडस्ट्री को रिजर्व करने का भी बड़ा लाभ, भारत के एमएसएमई सेक्टर को मिलेगा। उन्होंने कहा, ”7.5 लाख करोड़ रुपये का सार्वजनिक निवेश अर्थव्यवस्था को नई शक्ति प्रदान करेगा और छोटे और अन्य उद्योगों के लिए नए अवसर पैदा करेगा।”

प्रधानमंत्री ने अंत में कहा कि मैं वित्त मंत्री निर्मला जी और उनकी पूरी टीम को इस पीपुल फ्रेंडली और प्रोग्रेसिव बजट के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

Leave a Reply