रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने डीपीएसयू द्वारा आयात को कम करने और रक्षा क्षेत्र में ‘आत्मनिर्भरता’ हासिल करने के लिए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण 780 लाइन रिप्लेसमेंट यूनिटों/ उप-प्रणालियों/ घटकों की तीसरी सकारात्मक स्वदेशीकरण सूची को मंजूरी दी

रक्षा निर्माण में आत्मनिर्भरता की दिशा में निरंतर प्रयास करते हुए एवं ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के तहत रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (डीपीएसयू) द्वारा आयात को कम करने के लिए रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण 780 लाइन रिप्लेसमेंट/इकाइयों (एलआरयू)/उप-प्रणालियों/कलपुर्जों की तीसरी सकारात्मक स्वदेशीकरण सूची (पीआईएल) को मंजूरी दी है जिनको एक समय सीमा के बाद केवल घरेलू उद्योग से ही खरीदा जाएगा। इन आइटम्स का विवरण सृजन पोर्टल (www.srijandefence.gov.in) पर उपलब्ध है। सूची में दर्शाई गई समय-सीमा के बाद ही उन्हें भारतीय उद्योग से खरीदा जाएगा।

यह सूची एलआरयू/सब-सिस्टम/असेंबली/सब-असेंबली/कंपोनेंट्स की दो अन्य सकारात्मक स्वदेशीकरण सूचियों के क्रम में है जो दिसंबर 2021 और मार्च 2022 में प्रकाशित की गईं थीं । इन सूचियों में 2,500 आइटम हैं जो पहले से ही स्वदेशी हैं और 458 (351+107) आइटम हैं जिन्हें दी गई समय-सीमा के भीतर स्वदेशी बनाया जाएगा। 458 में से, 167 आइटम्स (पहली पीआईएल में -163, दूसरी में -4) का अब तक स्वदेशीकरण किया जा चुका है।

इन आइटम्स का स्वदेशीकरण ‘मेक’ श्रेणी के तहत विभिन्न तरीक़ों के माध्यम से किया जाएगा। ‘मेक’ श्रेणी का उद्देश्य भारतीय उद्योग की अधिक भागीदारी को शामिल करके आत्मनिर्भरता प्राप्त करना है। उद्योग द्वारा उपकरणों, प्रणालियों, प्रमुख प्लेटफार्मों या उनके उन्नयन के डिजाइन और विकास से संबंधित परियोजनाओं को इस श्रेणी के तहत लिया जा सकता है।

इन एलआरयू/उप-प्रणालियों/ कलपुर्जों के स्वदेशी विकास से अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी और डीपीएसयू की आयात निर्भरता कम होगी। इसके अलावा यह घरेलू रक्षा उद्योग की डिजाइन क्षमताओं का सदुपयोग करने और भारत को इन प्रौद्योगिकियों में एक डिजाइन लीडर के रूप में स्थापित करने में मदद करेगा।

डीपीएसयू जल्द ही रुचि की अभिव्यक्ति (ईओआई)/प्रस्ताव के लिए अनुरोध (आरएफपी) जारी करेंगे और इस प्रक्रिया में उद्योग बड़ी संख्या में भाग लेने के लिए आगे आ सकते हैं। उद्योग विशेष रूप से इस उद्देश्य के लिए डिज़ाइन किए गए सृजन डैशबोर्ड (https://srijandefence.gov.in/DashboardForPublic) पर ईओआई/आरएफपी की तलाश कर सकते हैं।

Leave a Reply