सरकारी कार्यालयों में ताले तोड़ने वाले अज्ञात बदमाश डकैती की योजना बनाते हुए धराये

झाबुआ . 6 व 07 जनवरी 2022 की मध्य रात्री में खेल एवं युवा कल्याण विभाग कार्यालय, जिला पंचायत कार्यालय, ग्रामीण आजिविका मिशन व ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के कार्यालय, आईटीआई कॉलोनी झाबुआ में कार्यालय व आवास परिसर में अज्ञात बदमाशों ने ताले तोड़कर उनमें रखे सामान एवं फाईले अस्त-व्यस्त की गई व अलमारियों को भी खोलने का प्रयास किया गया। कार्यालयों में सामान अस्त-व्यस्त पड़ा था लेकिन कोई सामान चोरी नहीं हुआ था। खेल एवं युवा कल्याण विभाग के कार्यालय में 2,500रू. चोरी हुए थे। अज्ञात बदमाशों द्वारा रात्री में कार्यालयों के ताले तोड़कर चोरी करने का प्रयास किया गया।उक्त घटनाओं की सुचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा तत्काल एफएसएल टीम, फिंगर प्रिंट टीम, डॉग स्कॉट टीम को घटनास्थल पर भेजा गया एवं थाना प्रभारी कोतवाली को सीसीटीव्ही फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान कर उन्हें जल्द से जल्द पुलिस गिरफ्त में लेने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही साथ रात्री गश्त एवं पेट्रोलिंग बढ़ाने के भी निर्देश समस्त थाना प्रभारियों को दिये गये।
उक्त निर्देशों के पालन में कई पुलिस टीमें बनाई गई एवं पुलिस टीम सीसीटीव्ही फुटेज के आधार पर आरोपी की पहचान करने में जुट गई। पुलिस टीमों द्वारा अपने विश्वसनीय मूखबीरों को भी इस कार्य हेतु लगाया गया। एक तरफ पुलिस टीमें कई सीसीटीव्ही फुटेज देखकर उसके आधार पर उन अज्ञात बदमाशों की पहचान कर रही थी एवं ये बदमाश वारदातों को अंजाम देकर किस तरफ गये इसका एक रूट बना रही थी। दूसरी तरफ पुलिस टीमे सक्रीय होकर गश्त एवं पेट्रोलिंग का कार्य भी कर रही थी ताकि वे अन्य कोई वारदात ना कर दे।08 जनवरी 2022 की रात्री में सूचना मिली कि कुछ लोग अनास नदी की पुलिया के निचे लूट-पाट करने के इरादे से बैठे है। उक्त सूचना पर थाना कोतवाली की पुलिस टीम तत्काल अनास नदी की पुलिया के पास पहुंची एवं वहां पर कुछ लोग पुलिया के निचे धारदार फालिया एवं लोहे की राड़ लेकर बैठे थे जिन्हे बड़ी ही सूझबूझ से घेराबंदी कर पकड़ा। एक व्यक्ति पुलिस को आता देख भागने में सफल रहा। उक्त पकड़े गये आरोपियों से अपना नाम पता पुछने पर अपना नाम चेतन, गुल्लु, राजेश एवं अजय पारदी होना बताया। भागने वाले व्यक्ति का नाम पता पुछने पर उसका नाम रोहित पिता बलुडा पारदी निवासी सुवासरा जिला मंदसौर का होना बताया। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों की पहचान करने पर पुलिस टीम को पता चला कि ये वहीं बदमाश है जो कि सीसीटीव्ही फुटेज में दिखाई दे रहे थे। जिन्होनें सरकारी कार्यालयों में ताला-तोड़कर चोरी करने का प्रयास किया था। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों को थाने लाकर सख्ती से पुछताछ करने पर उनके द्वारा सरकारी कार्यालयों में चोरी करना बताया।

आरोपियों के नाम –

चेतन पिता कालु पारदी उम्र 19 वर्ष निवासी मुरादपुर थाना जागर जिला गुना (गिरफ्तार), गुल्लु पिता हरिसिंह पारदी उम्र 18 वर्ष निवासी मुरादपुर थाना जागर जिला गुना (गिरफ्तार), राजेश पिता राजा पारदी उम्र 19 वर्ष निवासी मुरादपुर थाना धन्नावदा जिला गुना (गिरफ्तार), अजय उर्फ चंदन पिता बदाम पारदी उम्र 18 वर्ष निवासी बजरंग नगर थाना सालाखेड़ी जिला रतलाम (गिरफ्तार), रोहित पिता बलुडा पारदी निवासी सुवासरा जिला मंदसौर (फरार)

घटनाक्रम का खुलासा करने में थाना प्रभारी कोतवाली निरी. सुरेन्द्र सिंह गाडरिया, उनि रामसिंह चौहान, उनि भारतसिंह नायक, सउनि जगदीश नायक, सउनि जितेन्द्र दोहरे, सउनि कमलकांत, प्रआर. 152 रमेश निनामा, प्रआर 411 रविन्द्र, आर. 524 मनोहर, आर. 100 मुकेश, आर. 202 महेन्द्र, आर. 30 गमतु का सराहनीय योगदान रहा। इसमें आर. 30 गमतु द्वारा रातभर बैठकर सीसीटीव्ही फुटेज देखकर आरोपियों की पहचान करने में विशेष योगदान पाया गया। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।

Leave a Reply