जिला प्रशासन की एक अभिनव पहल….प्रशासन आपके द्वार में आज चारण कोटडा में कलेक्टर सोमेश मिश्रा एवं जिला अधिकारी पहुंचे

झाबुआ। प्रशासन आपके द्वार अंतर्गत चयनित दुरस्त ग्राम में प्रति सप्ताह पहुंच कर ग्रामीणों की समस्या का निराकरण स्थानीय स्तर पर ही किया जाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों द्वारा संचालित की जाने वाली योजनाओं से रूबरू करवाना एवं ग्रामीणों को विभिन्न विभागों की योजनाओं का लाभ किस तरह प्राप्त हो रहा है। इसकी समीक्षा इस शिविर में की गई। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा द्वारा इस अभिनव पहल का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण एवं विभागीय योजनाओं से अवगत कराना था। इस हेतु विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी एवं पेटलावद अनुभाग के अधिकारी आज ग्राम चारणकोटडा में उपस्थित हुए।
कलेक्टर श्री मिश्रा ने ग्रामीणों से रूबरू चर्चा की एवं उनकी समस्याओं को सुना एवं टीकाकरण के लिये प्ररित किया। जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है उन्हे बधाई दी एवं जिनके द्वारा टीका नहीं लगवाया गया है उन्हे तत्काल लगाए जाने के लिये कहा गया। श्री मिश्रा ने ग्राम में अधिक से अधिक लोग साक्षर हो एवं शासकीय योजनाओं का लाभ उठाए इसके अतिरिक्त किसी भी प्रकार के धौखेबाजी से बच सकें। श्री मिश्रा ने कहा कि उज्जवला योजना 2.0 के अंतर्गत गैस कनेक्शन का लाभ यहां की महिलाए अधिक से अधिक प्राप्त करें। यह गैस कनेक्शन पूर्णतः निःशुल्क उपलब्ध करवाया जा रहा है। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा मनरेगा योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना के संबंध में ग्रामीणों को विस्तृत रूप से जानकारी उपलब्ध करावाई गई। श्री जैन द्वारा ग्रामीणों से रूबरू चर्चा करते हुए बताया कि ग्राम में नाली निर्माण के लिए पर्याप्त राशि उपलब्ध है। गांव में स्वच्छता के लिए इस राशि का आप तत्काल उपयोग करें। इसी तरह मनरेगा योजना के अंतर्गत स्कूलों में बच्चों को डाइनिंग टेबल पर खाना खाए इसकी व्यवस्था की जा रही है। इस पर तत्काल कार्यवाही करें। प्रधानमंत्री आवास योजना में यदि आपकों प्रथम किश्त प्राप्त हो गई है तो तत्काल उसका उपयोग कर आगामी किश्त के लिये उसका उपयोग करें। इसके अतिरिक्त स्कूलों में बाउण्ड्रीवाल की राशि प्रदान की जा रही है उसका उपयोग करें। कृषि विभाग के उप संचालक श्री नगीन रावत द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में विस्तृत रूप से ग्रामीणों को अवगत कराया। इसी तरह उद्यान विभाग, पशुचिकित्सा विभाग, मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल, स्वास्थ्य विभाग, खाद्य विभाग, सिचाई विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, जन जाति कार्य विभाग, शिक्षा विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, राजस्व विभाग, वन विभाग द्वारा अपने विभाग की योजनाओं से ग्रामीणों को अवगत करवाया।
कलेक्टर श्री मिश्रा ने यहां के ग्राम पंचायत सचिव को इस ग्राम की जानकारी के संबंध में तलब किया किन्तु ग्राम पंचायत सचिव यहां से गायब हो चुके थे। कलेक्टर महोदय द्वारा गहरी अप्रसन्नता व्यक्त की एवं दण्डात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, तहसीलदार श्री वर्मा, बीएमओ डाॅ. श्री एम.एल.चैपडा, उप वन मण्डलाधिकारी श्री प्रदीप कछावा, एलडीएम श्री राजेश कुमार, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. श्री जे.पी.एस.ठाकुर, कार्यपालन यंत्री पीएचई श्री एन.एस.भिण्डे, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग श्री प्रशांत आर्या, मु.का.अ. जनपद पंचायत पेटलावद श्री एन.एस.चैहान, अधीक्षण यंत्री मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल श्री प्रेमसिंह चैहान, जिला आयुष अधिकारी श्रीमती प्रमिला चैहान, प्रभारी पीआरओ श्री सुधीर कुशवाह, प्रचार सहायक सुश्री वीणा रावत, साक्षरता मिशन से श्रीमती अन्नू भाबर एवं श्रीमती कुसूम भुरिया, बीईओ पेटलावद ग्राम पंचायत बेकल्दा के सरलदपंच एवं बडी संख्या में जिला अधिकारी एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Reply