हैंड पंप बंद, बिन पानी सब सून, गांव मानपुरा के रहवासी ग्रीष्म काल में परेशान

झाबुआ। (रणवीर सिसोदिया ब्यूरो चीफ झाबुआ) जनपद पंचायत झाबुआ के ग्राम पंचायत मानपुरा का है यहां के लोग पानी नहीं मिलने से ग्रीष्म काल में परेशान हो रहे है। डीजी न्यूज़ टीम जब मौके पर पहुंची तो स्कूल पलिया के रहवासी खुशाल झणीया ने बताया कि यह हैंडपंप करीब 15 दिनों से बंद है महिलाओं को दूर से पानी लाना पड़ता है इसलिए काफी परेशानी हो रही है, इसी तरह तड़वी फलीया के लालजी परमार ने बताया कि हमारे यहां पर भी जो हैंडपंम है वह कम पानी देता है इसमें और पाइप लगाने की जरूरत है हमारे फलिए के लोग पानी की वजह से बहुत परेशान हो रहे हैं पास में ही एक कुआं है जो डॉक्टर गबला झणिया का, जिससे हम पानी लाते हैं और उसी पानी को पीने में उपयोग करते हैं
एक तरफ तो ग्रामीण कोरेना महामारी से परेशान तो दूसरी तरफ पानी के कशमकश, ऐसे में लोग जाए तो कहां जाए, अपनी समस्याओं का निदान कैसे करें। यह आत्मनिर्भर भारत पर भी बहुत बड़ा सवालिया निशान है

कैसे पूरा होगा सरकार का जल मिशन-:

इस स्थिति से यह पता चलता है कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा पेयजल योजना के लिए जो योजनाएं चलाई जा रही है वह सिर्फ कागजों पर ही फलती फुलती नजर आ रही है, जबकि जल मिशन के अंतर्गत 2023 तक घर-घर पानी पहुंचाने का टारगेट है तो यह कब होगा, कैसे होगा यह विचाराधीन है।

डॉक्टर झरिया के कुवे से मिल रही संजीवनी-:

गांव में पानी संबंधी शासकीय सुविधा को तो पढ लिया होगा आपने लेकिन ठीक इसके विपरीत डॉक्टर गबला झणिया के कुवे से ग्राम वासियों का जो पानी मिल रहा है वह संजीवनी से कम नहीं है, इनकी मानवता व जल सेवा के भाव इनके कर्म को प्रदर्शित करते हैं, जिनकी वजह से ग्रीष्म काल में लोगों को पानी की परेशानियों से मदद मिल रही है।

यह बोले जिम्मेदार अधिकारी-ः

इस संबंध में पीएचई विभाग के एसडीओ श्री सूर्यवंशी जी से फोन पर चर्चा हुई उन्होंने बताया कि आप के माध्यम से मुझे सूचना मिली है मैं समस्याओं को दूर करने के लिए संबंधित को अभी ही आदेशित करूंगा

Leave a Reply