शिक्षा पोर्टल में गड़बड़ी विद्यालय जीव विज्ञान का पद खाली , पोर्टल में बता रहा इतिहास

स्कूल शिक्षा विभाग में पोर्टल में विसंगतियां नहीं सुधर नहीं है। इससे कारण अतिथि शिक्षकों की नियुक्त प्रभावित हो रही है। स्थित यह है कि विद्यालया में जीव विज्ञान का पद खाली और पोर्टल इतिहास का पद बता रहा है। परिणाम स्वरुप विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की नियुक्त नहीं हो पा रही है। इससे विद्यालयों को अध्यापन कार्य प्रभावित हो रहा है।

Education portal disturbances vacant post of school biology, history telling in portal

रीवा। स्कूल शिक्षा विभाग में पोर्टल में विसंगतियां नहीं सुधर नहीं है। इससे कारण अतिथि शिक्षकों की नियुक्त प्रभावित हो रही है। स्थित यह है कि विद्यालया में जीव विज्ञान का पद खाली और पोर्टल इतिहास का पद बता रहा है। परिणाम स्वरुप विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की नियुक्त नहीं हो पा रही है। इससे विद्यालयों को अध्यापन कार्य प्रभावित हो रहा है। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में अभी तक इस तरह 25 से अधिक विद्यालयों के प्राचार्य ने इसकी जानकारी दी।

बताया जा रहा है कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सेमरिया में जीव विज्ञान का पद रिक्त है इसके बावजूद यहां जीव विज्ञान का पद भरा है एवं इतिहास को पद खाली बता रहा है। हैरान करने वाली बात यह है कि इस विद्यालय में इतिहास का विषय ही नहीं है। इसी तरह शासकीय मॉडल स्कूल मऊगंज में हिन्दी, सस्कृति के पद खाली है। इसके बावजूद पोलर्ट में कोई जानकारी ही नहीं है। इसके कारण संकुल प्राचार्य स्कोर कार्ड के अनुसार अतिथि शिक्षकों की नियुक्त नहीं कर पा रहे है। इस तरह कुल 25 से अधिक विद्यालयों ने पोर्टल में गड़बड़ी है। पोर्टल में पद रिक्त नहीं होने पर नियुक्त के बाद भुगतान को लेकर समस्या को देखते संकुल प्राचार्य नियुक्त करने पीछे हट रहे है।

फिर भी नहीं सुधरी खामियां
अभी शिक्षा विभाग द्वारा पोर्टल में विसंगति होने के कारण ऑन लाइन स्थानांतरण में 285 शिक्षकों को इस तरह की आपत्ति जताई थी। इसके बाद डीइओ ने पदों की जानकारी सही करने के बाद पदस्थापना आदेश जारी किए थे। लेकिन इसके बावजूद भी पोलर्ट में विसंगति नहीं सुधरी है। बताया जा रहा है पोलर्ट में सुधारने का अधिकार भोपाल में आपरेटर के पास है। इस संबंध में जानकारी कई बार भेजी गई है। लेकिन सुधार नहीं हो पा रहा है। अब एक विद्यालयों का सुधार करने के बाद अतिथि शिक्षक नियुक्त किए जा रहे है।

वीडियों कांफ्रेस में दिए नियुक्त के आदेश-
स्कूल शिक्षा विभाग में पोर्टल की विसंगति सामने आने के बाद पीएस के स्कूलों के अध्यापन काम प्रभावित नहीं हो इसके लिए अतिथि शिक्षकों को नियुक्त करने आदेश दिया है। साथ ही पद को पोर्टल में अपडेट कराने का भी निर्देश दिया है

Leave a Reply