कांग्रेस सरकार में है, तो अपनी मौजूदगी का अहसास भी कराएः राकेश सिंह

                इंदौर। मध्यप्रदेश में अतिवर्षा को लेकर हालात चिंतनीय है। किसान और जनता परेशान है। लेकिन गूंगी और बहरी सरकार को कोई फर्क नहीं पड रहा है। बीते दिनों भाजपा ने कुंभकरणी नींद में सोई सरकार को जगाने के लिए घंटानाद आंदोलन किया, लेकिन सरकार गहरी नींद में सोई हुई है। उसे जनता के हितों से कोई लेना देना नहीं है। पानी के कारण चारों ओर हाहाकार मचा है। अतिवृष्टि ने किसानों की फसलों को चौपट कर दिया है। ऐसे विकट समय में मुख्यमंत्री तो दूर उनके मंत्री भी जनता के बीच मौजूद नहीं है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने सोमवार को इंदौर में मीडिया से चर्चा करते हुए कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में है, उसे इसका अहसास भी कराना चाहिए।

सरकार तत्काल सर्वे कर किसानों को पर्याप्त क्षतिपूर्ति दें

                उन्होंने कहा कि भारी बारिश से हुए नुकसान के कारण प्रदेश के किसान खून के आंसू रो रहे हैं, लेकिन सरकार कुंभकर्णी नींद में सोई हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार तत्काल निर्देश दें, ताकि किसानों को हुए नुकसान का सर्वे प्रारम्भ हो जाए तथा उनको हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति हो सके। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मांग करती है कि तत्काल सर्वे कर किसानों को पर्याप्त क्षतिपूर्ति की जानी चाहिए।

सरकार को सुनाई नहीं दे रहा किसानों का दर्द

                मध्यप्रदेश सरकार केवल अपने विधायकों व मंत्रियों की सुन रही है। किसी मंत्री या विधायक के आर्थिक हित पूरे नहीं होते, तब वो आरोप प्रत्यारोप शुरू कर देता है। लेकिन इनको किसान का दर्द सुनाई नहीं दे रहा। जनता के दुःख दिखाई नहीं दे रहे, इससे बड़े दुर्भाग्य की बात क्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ मुख्यमंत्री निवास और वल्लभ भवन से बाहर नहीं निकल रहे है। जनता और किसान बेहाल है। उन्होंने कहा कि सरकार की पहली जिम्मेदारी है कि किसानों को सहायता दें

Leave a Reply