पहले ही काम अवैध फिर ऊपर से फिजूल खर्ची बेटे को नहीं आया रास तो पिता को ही उतार दिया मौत के घाट शामगढ़ पुलिस ने किया एक बड़ा खुलासा बेटा ही निकला पिता का हत्यारा पुलिस ने किया गिरफ्तार

• शामगढ पुलिस की एक और त्वरित कार्यवाही सनसनी खेज हत्या का पुलिस ने किया खुलासा
• हत्या के आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तारः-

घटना का संक्षिप्त विवरणः-

दिनांक 28.02.2022 को फरियादी गुमानसिंह पिता दुलेसिंह जाति सौंधिया राजपुत उम्र 32 वर्ष निवासी ग्राम असावती के व्दारा रिपोर्ट लेख करवाई गई थी कि मैं अपने खेत पर पाडत करने गया था मेरे पिता दुलेसिंह जी पिछले 2 साल से खेत पर ही सोते है जो रात्री मे वह खेत पर बनी पडार पर सो गये ते मैं पाडत कर रात्री करीबन 00.30 बजे अपने घर आकर सो गया था जो सुबह करीबन 06.30 बजे घर से भेंसे लेकर खेत पर गया तो देखा पिता जी खाट पर लेटे हुए थे मेने सोचा पिता जी अभी तक उठे नही पास जाकर देखा तो उनके सिर मे गहरी चोटे होकर काफी खुन निकला हुआ था तथा हिलाने पर बोल नही रहे थे तो मैने अपने परिवार के अर्जुन सिंह को फोन किया तो अर्जुनसिंह व मांगुसिंह जी तथा परिवार के अन्य लोगो के आने पर घटना बता पिता जी को अपनी जीप मे लिटाकर हम लोगो सरकारी अस्पताल शामगढ लेकर आये जहा पर डाक्टर साहब ने चेक कर उनके सर पर आयी चोटो पर टांके लगाकर पट्टी बांध प्राथमिक उपचार कर गम्भीर चोट होने से बाहर ले जाने हेतु कहने पर हम लोगो पिता जी जीप से मंदसौर ईलाज के लिए लेकर जा रहे थे कि धामनिया से आगे निकलते ही पिता जी मृत्यु हो गयी जिन्हे वापस सरकारी अस्पताल शामगढ लेकर आये जहा डाक्टर साहब ने चेक किया तो मृत्यु होना बताया जो किसी अज्ञात व्यक्ति व्दारा रात मे मेरे पिता जी के सिर पर धारदार हथियार से मारने से उनके सिर पर आयी चोटो से मृत्यु हुई है ।जिसपर से अपराध क्रमांक 72/2022 धारा 302 भादवि का कायम कर विवेचना मे लिया गया था ।
इस संबंध मे श्री अनुराग सुजानिया पुलिस अधीक्षक मंदसौर के द्वारा घटना को गंभीरता से लेकर घटना की पतारसी व आरोपियों की तलाश हेतु तत्काल एक विशेष पुलिस जाँच दल श्री महेंद्र तारनेकर अति पुलिस अधीक्षक गरोठ व शेरसिंह भूरिया अ.अ.पु. सीतामउ के निर्देशन में गठित कर विशेष दिशा निर्देश देकर शीघ्र निराकरण हेतु निर्देशित किया गया ! श्री कमलेश प्रजापति निरीक्षक थाना प्रभारी शामगढ के नेतृत्व में चौकी प्रभारी शैलेन्द्रसिंह कनेश व गठित दल के द्वारा लगातार सरगमी से जाँच पड़ताल शुरू करते हुए जानकारी एकत्र करना प्रारंभ की गयी मृतक दुलेसिंह पिता पुरसिंह जाति सौंधिया राजपुत उम्र 60 वर्ष निवासी असावती के सम्बन्ध में विभिन्न पहलुओ पर और प्रत्येक दिशा में जानकारी एकत्र की गयी ! जनसंपर्क एवं व्यावसायिक दक्षता तथा कार्य कौशल के आधार पर जुटाई गयी जानकारी से पता चला की आरोपी मृतक का बेटा है जो अपने पिता से काफी दिनो से नाराज चल रहा था जो आरोपी गुमानसिंह के बेटे दिलीपसिंह की सगाई के संबंध मृतक दुलेसिंह की गलत हरकतो के कारण बार बार टुट जाना व आरोपी व्दारा काफी समझाने पर भी अपनी आदतो मैं सुधार नही करने पर व अन्य महिलाओ से संबंध स्थापित कर फिजुल खर्च कर घर परिवार की प्रतिष्ठा धुमिल हो रही थी एवम् फसल बीमा के रुपयो के लेन देन को लेकर भी दिनांक 27.02.2022 को दरम्यानी रात मृतक दुलेसिंह एवम् गुमानसिंह के बीच घर पर झगडा हुआ था जिसके बाद आरोपी गुमानसिंह रात्री करीबन 11.30 बजे खेत पर सिंचाई करने चला गया था एवम् रात्री मे करीबन 03.30 बजे के लगभग जब मृतक दुलेसिंह अपने खेत पर बनी पडार पर गहरी नींद मे सो रहा था तब आरोपी गुमानसिंह व्दारा जप्तशुदा कुल्हाडी से सिर पर लगातार तीन वार कर घटना को अंजाम दिया गया था एवम् घटना मे प्रयुक्त कुल्हाडी पास के खेत मे घास मे छुपा दी घटना के बाद आरोपी गुमानसिंह मृतक दुलेसिंह को मृत समझ कर अपने घर जाकर के सो गया था व सुबह उठ कर के अपने नित्य क्रम मे लग गया था जिससे की किसी को शंका ना हो व किसी प्रकार की कोई जानकारी नही होने का नाटक कर पुरे समय परिवार के अन्य लोगो के साथ मे रहा । पुलिस के व्दारा लगातार पुछताछ कर हिकमतअमली से आरोपी गुमानसिंह से बातचीत की गई जो आरोपी व्दारा घटना कारित करना स्वीकार किया । पुलिस ने आरोपी गुमानसिंह पिता दुलेसिंह जाति सौंधिया राजपुत निवासी असावती को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस व्दारा इस गुत्थी को बहुत कम समय मे सुलझाया ओर सफलता हासिल कर ली।
गिरफ्ताशुदा आरोपियों का विवरण :- 1 गुमानसिंह पिता दुलेसिंह जाति सौंधिया राजपुत उम्र 32 वर्ष निवासी असावती चौकी चंदवासा थाना शामगढ
जप्तशुदा मश्रुकाः- एक कुल्हाडी व कपडे
सराहनीय योगदानः- निरीक्षक कमलेश प्रजापति थाना प्रभारी थाना शामगढ, उ.नि. शैलेन्द्रसिंह कनेश चौकी प्रभारी चंदवासा, उ.नि. लाखनसिंह कार्य. उ.नि. भानुप्रतासिंह राजावत, स.उ.नि. अर्जुनसिंह परिहार ,प्र.आऱ.211 बहादुरसिंह चन्द्रावत, प्र.आर. दिलीप नागर, प्र.आर. घनश्याम भैसानिया , आर. मनीष लबाना आर.संजय बम्बोरिया , आर. 316 परिमालसिंह गुर्जर , आर. 753 धर्मेन्द्रसिंह , आर. 858 श्रीकृष्ण , आर. 842 मंगलेश पाटीदार ,आर. चालक देवेन्द्रसिंह , सैनिक 202 दलसिंह का सराहनीय योगदान रहा।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply