नीमच जिले में 516 पुरानी जल संरचनाओं का होगा जीर्णोद्धार ग्रामीणों की आजीविका में होगी वृद्धि

नीमच जिले में शासन के निर्देशानुसार महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत पुरानी संरचनाओं तालाब, चेकडेम, स्टॉपडेम के जीर्णोद्धार से क्षैत्र की चयनित पुरानी सरंचनाओं में उपयोगकर्ता दल का गठन कर संरचनाओं को उपयोगी बनाकर, उनसे आय जनित गतिविधियॉं जैसे मछली पालन, सिंघाड़ा उत्पादन, एवं सिंचाई आदि कार्यो का निष्पादन कर, आजिविका में वृद्धि की जावेगी। इसके लिए जिले में कुल 516 पुरानी जल संरचनाओं का चयन किया गया है। जिसमें जनपद पंचायत जावद क्षेत्र की 157 जल संरचनाएं, जनपद पंचायत मनासा क्षेत्र की 205 जल संरचनाएं एवं जनपद पंचायत नीमच की 154 जल संरचनाओं को चयनित कर, कार्यो की तकनीकी एवं प्रशासकीय स्वीकृतियां जारी कर, कार्य प्रारंभ किए गए हैं। इन संरचनाओं में मछली पालन हेतु 40 जल संरचनाएं, सिंघाड़ा उत्पादन हेतु 26 जल संरचनाएं एवं सिचाई के लिए 450 संरचनाओं में उपयोगकर्ता दल के माध्यम से ग्रामीणों की आजिविका में वृद्धि का कार्य किया जा रहा हैं। इन संरचनाओं का जीर्णोद्धार हो जाने से ग्रामीणों की सिचाई क्षमता बढ़ेगी तथा क्षेत्र में सिंघाड़ा एवं मछली उत्पादन से आय में वृद्धि होगी। साथ ही पुरानी संरचनाओं का जीर्णोद्धार हो जाने से जल संरचनाओं का अधिक समय तक उपयोग किया जा सकेगा।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply