लॉकडाउन के लिए राज्य स्तर से अनुमति आवश्यक, एक अगस्त से किल कोरोना अभियान । उज्जैन संभाग ब्यूरो चीफ एस एस यादव

भोपाल—-किसी भी जिले के कलेक्टर अपनी मर्जी से लॉकडाउन नहीं लगा सकेंगे। बहुत जरूरी होने पर कलेक्टरों को इसके लिए पहले राज्य शासन से अनुमति लेनी होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कोविड अस्पताल से कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हमें अपनी अर्थव्यवस्था को गतिमान करना है इसलिए जिलों में पहले से घोषित तथा रविवार के अलावा अन्य लॉकडाउन नहीं किया जा सकेगा। इसके साथ सरकार 14 दिन का कोरोना किल अभियान-2 शनिवार एक अगस्त से शुरू कर रही है
मुख्यमंत्री चौहान ने इस अभियान को ‘संकल्प की चेन जोड़ो, कोरोना की चेन तोड़ो’ नाम दिया है। उन्होंने कहा कि यह जागरुकता अभियान है। इसके माध्यम से अनिवार्य रूप से मास्क लगाने और सुरक्षित शारीरिक दूरी के नियम का पालन करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा।
चौहान ने बताया कि अब प्रदेश में अपने मकान व संस्थागत के अलावा सशुल्क क्वारंटाइन की व्यवस्था रहेगी, जो लोग खर्च कर सकते हैं वे सशुल्क सेंटरों में रह सकेंगे।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply