प्रतापगढ़। नगर के सीबीएन ऑफिस में विगत दिनों पूर्व एक ठेकाकर्मी को चित्तौड़गढ़ संसदीय क्षेत्र के सांसद सीपी जोशी ने थप्पड़ जड़ दिया था। इस घटना से आहत प्रतापगढ़ विधायक रामलाल मीणा ने एक्शन में आते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा। इस पत्र के माध्यम से सांसद जोशी पर नियमानुसार कार्रवाई की मांग की।

विधायक ने बताया कि केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग प्रतापगढ़ में हो रहे भारी भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए चितौडगढ़ संसदीय क्षेत्र के सांसद सीपी जोशी ने बडे अधिकारियों से स्नेहिल व्यवहार रखते हुए एससी वर्ग के कार्मिक को थप्पड़ जड़ा है। इस घटना से एसटी/एससी वर्ग एवं जनमानस में आक्रोश उत्पन्न है। उन्होंने बताया कि नारकोटिक्स विभाग जो की केन्द्र सरकार का विमाग है, जिसमें आये दिन भ्रष्टाचार की शिकायतें प्राप्त होती रहती है। इस वर्ष भी अफीम किसानों से नामान्तरण एवं लाईसेंस जारी करने के एवज में 50 हजार रूपये से 80 हजार रूपये लेने की खुब शिकायतें प्राप्त हो रही है, लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर जनमानस में यह संदेह होने लगा है कि कहीं न कहीं इस भ्रष्टाचार में सांसद सीपी जोशी भी सम्मिलित तो नहीं है। ऐसी स्थिति में मामले पर पर्दा डालने के लिए सांसद सीपी जोशी स्वयं नारकोटिक्स विभाग के कार्यालय पहुंचे गये और जो अधिकारी किसी के मार्फत मोटी रकम वसुली कर रहे थे, उनसे स्नेहिल व्यवहार रखते हुए उन घुसखोर अधिकारीयों को कुछ भी नहीं कहते हुए एससी वर्ग के एक छोटे कर्मचारी के थप्पड जडकर पाक साफ होने की कोशिश की। जबकि उक्त कार्मिक से यह नहीं पूछा की तुमने पैसे वसूल कर किन-किन अधिकारियों को दिये।

सांसद ने एक एससी वर्ग के कार्मिक को थप्पड जड़कर पूरे एससी वर्ग का अपमान किया है। पीएम मोदी से निवेदन है कि जिस एससी वर्ग को शोषण से बचाने के लिए संविधान में विशेष प्रावधान कर उनकी सुरक्षा व्यवस्था की गई है, वहीं संवैधानिक पद पर विराजमान सांसद जोशी ने एक एससी वर्ग के कार्मिक को उच्च अधिकारीयों एवं भाजपा के आला पदाघिकारीयों के सामने नगर परिषद प्रतापगढ़ के सभापति के पति प्रहलाद गुर्जर से बुलवाकर सबके सामने थप्पड़ मारकर न सिर्फ एससी वर्ग का अपमान किया है बल्कि संविधान का भी उल्लंघन किया है। इस पूरे घटनाकम में नारकोटिक्स विभाग के भ्रष्टाचार में सम्मिलित अधिकारियों पर पर्दा डालने की कोशिश की है। ऐसे सांसद पर कानूनी कार्यवाही करने की कृपा करावें। यदि सांसद व भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है तो आगामी 20 नवंबर को आन्दोलन एवं आक्रोश रैली का आयोजन किया जायेगा।

About Surendra singh Yadav

View all posts by Surendra singh Yadav →

Leave a Reply